Draupadi Murmu Biography In Hindi | 2024 में द्रौपदी मुर्मू का सम्पूर्ण जीवन परिचय

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Draupadi Murmu Biography In Hindi: द्रौपदी मुर्मू के बारे में आप सभी लोग जानते ही होंगे क्योंकि यह देश की राष्ट्रपति है और भारतीय जनता पार्टी के द्वारा द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्रपति पद के लिए चुना गया हैं। आज हम इस लेख के माध्यम से आपको द्रौपदी मुर्मू का पूरा जीवन परिचय देने वाले हैं। और द्रौपदी मुर्मू के बारे में ऐसी सब बाते बताने वाले है जो आपने कभी सुनी भी नही होगी।

आज हम आपको इस लेख के माध्यम से बताने वाले है draupadi murmu biography in hindi, साथ ही साथ द्रौपदी मुर्मू के बारे में दिलचस्प बाते बताने वाले हैं। इसलिए आज के हमारे इस लेख में अंत तक बने रहिए और हमारे लेख को पूरा पढ़े।

तो आइये हम आपको द्रौपदी मुर्मू के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी देने का प्रयास करते हैं।

द्रौपदी मुर्मू का जीवन परिचय (Draupadi Murmu Biography In Hindi)

हमने द्रौपदी मुर्मू के बारे में कुछ प्रमुख बाते नीचे टेबल में बताई हैं ताकि आपको समझने में आसानी हो –

Draupadi Murmu Biography In Hindi
Draupadi Murmu Biography in Hindi
Source: Google
पूरा नाम (Full Name)द्रौपदी श्याम चरण मुर्मू
पिता का नाम (Father’s Name)बिरांची नारायण टुडू
पति का नाम (Husband Name)श्याम चरण मुर्मू
परिवार (family)संथाल परिवार 
जन्म तिथि (Date Of Birth)20 जून 1958
उम्र (Age)65 वर्ष
जन्म स्थान (birth place)उड़ीसा के मयूरभंज जिले में
वजन (Weight) 76 किलो
लंबाई (Height)5 फिट 4 इंच
जाति (Caste)अनुसूचित जनजाति (ST)
धर्म (Religion)हिन्दू धर्म
बेटी का नाम (Daughter Name)इतिश्री मुर्मू
पेशा professionराजनीतिज्ञ
पार्टी (Party)भारतीय जनता पार्टी (BJP)
भारतीय जनता पार्टी (BJP) से कब जुड़े1997 में
उपलब्धि 9th राजयपाल झारखण्
संपत्ति (Net Worth In Rupees)10 लाख (अनुमानित)

द्रौपदी मुर्मू का प्रारंभिक जीवन परिचय

वर्तमान में द्रौपदी मुर्मू भारत देश की राष्ट्रपति के तौर पर अपना पद संभाल रही हैं। इनका जन्म भारत देश के राज्य उड़ीसा के मयुरभंज क्षेत्र में 20 जून 1958 के दिन हुआ था। इनका जन्म संथाल आदिवासी परिवार में हुआ था।

Draupadi Murmu
Image Credit – Wallpaper Cave

इस वजह से देखा जाए तो राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू आदिवासी परिवार से ताल्लुक रखती हैं। एक महिला होने के बाद भी वर्तमान में द्रौपदी मुर्मू देश के राष्ट्रपति के पद पर काफी अच्छा कार्य कर रही हैं क्योंकि इनके पास राजनीति में काफी वर्षो का अनुभव हैं। द्रौपदी मुर्मू के बारे में आये दिन इंटरनेट और न्यूज पर काफी चर्चा होती रहती हैं।

See also  Ratan Tata Biography in Hindi 2024 | देश के महान व्यक्ति रतन टाटा जी का जीवन परिचय

द्रौपदी मुर्मू की शिक्षा (Draupadi Murmu Education)

द्रौपदी मुर्मू की शिक्षा के बारे में बात करे तो इन्होने शिक्षा में ग्रेज्युएशन पूर्ण किया हैं। द्रौपदी मुर्मू ने अपनी प्राथमिक शिक्षा अपने क्षेत्र के विद्यालय से ही पूर्ण की थी| ऐसा माना जाता है जब द्रौपदी मुर्मू को समझ प्राप्त हुई तब उनके माता पिता ने उनका दाखिला अपने ही गाँव के विद्यालय में करवाया और वही से इन्होने अपनी प्राथमिक शिक्षा पूर्ण की हैं।

इसके बाद अधिक पढ़ाई करने के लिए द्रौपदी मुर्मू भुवनेश्वर चली गई। यहाँ पर इन्होने रामा देवी महिला कॉलेज में एडमिशन लेकर अपनी ग्रेज्युएशन की पढाई पूर्ण की। रामा देवी महिला कॉलेज से ग्रेज्युएशन की पढाई करने के बाद उन्हें ग्रेज्युएशन की डिग्री प्राप्त हुई। 

इसके बाद द्रौपदी मुर्मू ने उड़ीसा के बिजली डिपार्टमेंट में जूनियर असिस्टेंट के तौर भी काम किया। द्रौपदी मुर्मू ने यह नौकरी 4 साल तक की। ऐसा माना जाता है की द्रौपदी मुर्मू ने बिजली डिपार्टमेंट में जूनियर असिस्टेंट के तौर पर 1979 से 1983 तक नौकरी की थी।

इसके बाद द्रौपदी मुर्मू ने टीचर के तौर पर भी नौकरी की थी। सन 1994 में द्रौपदी मुर्मू ने रायरंगपुर की अरबिंदो इंटीग्रल एज्युकेशन में टीचर के तौर पर नौकरी प्राप्त की थी। यह नौकरी उन्होंने 1994 से लेकर 1997 तक यानी की 3 साल तक की थी।

द्रौपदी मुर्मू का परिवार परिचय (Draupadi Murmu Family)

द्रौपदी मुर्मू के पिता का नाम बिरांची नारायण टुडू था और उनके पति का नाम श्याम चरण मुर्मू था। श्याम चरण मुर्मू का जन्म के आदिवासी संथाल परिवार में हुआ था। ऐसा माना जाता है कि द्रौपदी मुर्मू के पिता और दादा गाँव के प्रधान थे। 

द्रौपदी मुर्मू का राजनीतिक जीवन

द्रौपदी मुर्मू का राजनीतिक जीवन काफी शानदार रहा हैं। इनके राजनीतिक जीवन के बारे में हमने नीचे जानकारी प्रदान की हैं –

  • सन 2000 से 2004 तक यानि 4 साल तक ओडिशा सरकार में राज्यमंत्री के तौर पर कार्यकाल संभाला जिसमे वह ट्रांसपोर्ट एवं वाणिज्य विभाग में कार्यरत थी।
  • साथ साथ 2002 से 2004 के दौरान ओडिशा सरकार में राज्यमंत्री के तौर पर पशुपालन और मत्स्य विभाग में कार्य संभाला।
  • साल 2004 से 2009 तक भारतीय जनता पार्टी के अनुसूचित जाति के मोर्चा राष्ट्रीयकारिणी के मेंबर रहकर भी काम किया था।
  • साल 2006 से 2009 तक भारतीय जनता पार्टी के एसटी मोर्चा की अध्यक्ष भी रह चुकी हैं।
  • एसटी मोर्चा संभालने के साथ साथ साल 2013 से 2015 तक भारतीय जनता पार्टी में राष्ट्रीय कार्यकारिणी का मेंबर पद भी संभाला।
  • इसके बाद 2015 से लेकर 2021 तक झारखंड की राज्यपाल के तौर पर कार्य संभाला। राज्यपाल के पद पर द्रौपदी मुर्मू ने 6 वर्ष तक कार्य किया।
See also  Rajeev Chandrasekhar Biography In Hindi | केन्द्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर का जीवन परिचय 2024

द्रौपदी मुर्मू को मिले पुरस्कार (Draupadi Murmu Award)

द्रौपदी मुर्मू को पुरस्कार देकर भी सम्मानित किया गया है। जब 2007 में ओडिशा विधानसभा में थी तब इन्होने सर्वश्रेष्ठ कार्य किया था। इस कार्य को देखते हुई नीलकंठ पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

जिला पार्षद के तौर पर भी कार्य किया

द्रौपदी मुर्मू जिला पार्षद के तौर पर भी कार्य संभाल चुकी हैं। साल 1997 में द्रौपदी मुर्मू को ओडिशा के रायरंगपुर का जिला पार्षद चुना गया। जिला पार्षद के पद पर भी द्रौपदी मुर्मू ने अच्छा कार्य किया और इस वजह से इनका राजनीतिक सफर लंबा चला।

जिला पार्षद के रूप में कार्य कर रहे थे तब द्रौपदी मुर्मू रायरंगपुर की उपाध्यक्ष बनी थी। इसके बाद 2002 की साल से 2009 तक मयूरगंज जिले की भारतीय जनता पार्टी की अध्यक्ष भी बनी। 

इसके बाद अच्छे राजनीतिक सफर के कारण 2004 की साल में रायरंगपुर में विधानसभा से विधायक बनने का मौका मिला। इस सफर से आगे बढ़ते हुए 2015 की साल में झारखंड जैसे आदिवासी बहुल राज्य में राज्यपाल के पद की प्राप्ति की थी। द्रौपदी मुर्मू में राज्यपाल का पद भी काफी वर्ष संभाला।

देश की दूसरी और पहली आदिवासी महिला राष्ट्रपति बनी द्रौपदी मुर्मू

जब तक द्रौपदी मुर्मू राष्ट्रपति नही बनी थी तब तक उन्हें काफी कम लोग जानते थे। लेकिन द्रौपदी मुर्मू के राष्टपति बनने के बाद देश में चारो तरफ इनके नाम की चर्चा होने लगी।

द्रौपदी मुर्मू देश की दूसरी और आदिवासी समाज की पहली राष्ट्रपति हैं जो कि काफी गर्व की बात मानी जाती हैं। देश की पहली महिला राष्ट्रपति श्रीमती प्रतिभा पाटिल थी। 

द्रौपदी मुर्मू को एनडीए के द्वारा राष्ट्रपति पद के लिए घोषित किया गया था। वर्तमान में द्रौपदी मुर्मू राष्ट्रपति के पद को काफी अच्छे से संभाल रही हैं। इसके पीछे उनका इतना शानदार राजनीतिक सफर माना जाता हैं। 

पति और दो बेटो का साथ छुट चूका है

द्रौपदी मुर्मू के व्यक्तिगत जीवन के बारे में बात करे तो इनकी शादी श्याम चरण मुर्मू के साथ हुई थी। द्रौपदी मुर्मू के दो बेटे और एक बेटी हुई थी लेकिन अब उनके पति और दो बेटे उनके साथ नही है। उनका देहांत हो चूका हैं।

See also  अब्दु रोजिक का जीवन परिचय | Abdu Rozik Biography in Hindi

द्रौपदी मुर्मू का व्यक्तिगत जीवन दुखभरा रहा हैं। अब उनके परिवार में उनके साथ एक बेटी हैं। जिनका नाम इतिश्री हैं। उनकी बेटी की भी शादी हो चुकी हैं। उनकी बेटी के पति का नाम गणेश हेम्ब्रम हैं।

द्रौपदी मुर्मू की जीवन उपलब्धियां

द्रौपदी मुर्मू ने अपने जीवन काल दौरान काफी सारी उपलब्धियां हांसिल की हैं। इन्होने राजनीति क्षेत्र में उम्दा कार्य किये हैं। इनके उपलब्धियों के बारे में हमने नीचे संक्षिप्त में जानकारी प्रदान की हैं-

  • देश की दूसरी महिला राष्ट्रपति बनी।
  • देश की पहली आदिवासी महिला राष्ट्रपति बनी।
  • द्रौपदी मुर्मू झारखंड की पहली महिला राज्यपाल बनी।
  • 2000 से 2009 तक उड़ीसा के रायरंगपुर में विधायक का इलेक्शन जीतने में सफलता मिली।
  • साल 2009 में अनुसूचित जाति का मोर्चा भी संभाला।

FAQ’s (अक्सर पूछे जाने वाले सवाल)

  1. द्रौपदी मुर्मू कौन हैं?

    द्रौपदी मुर्मू वर्तमान में भारत देश की राष्ट्रपति हैं। यह देश की दूसरी और पहली आदिवासी महिला हैं जो राष्ट्रपति का पद संभाल रही हैं।

  2. द्रौपदी मुर्मू की उम्र क्या है?

    द्रौपदी मुर्मू की उम्र 65 साल है। इनका जन्म साल 1958 में हुआ था।

  3. द्रौपदी मुर्मू इतनी प्रसिद्ध क्यों हैं?

    क्योंकि यह देश की दूसरी महिला राष्ट्रपति हैं और देश की पहली आदिवासी महिला राष्ट्रपति हैं। इसलिए यह इतनी प्रचलित हैं।

  4. द्रौपदी मुर्मू किस जाति से ताल्लुक रखती है?

    द्रौपदी मुर्मू आदिवासी अनुसूचित जाति से ताल्लुक रखती हैं।

  5. द्रौपदी मुर्मू का जन्म किस परिवार में हुआ?

    द्रौपदी मुर्मू का जन्म संथाल परिवार में हुआ।

  6. राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को कितने वोट मिले थे?

    राष्ट्रपति के पद के लिए द्रौपदी मुर्मू को 6,76,803 के करीब वोट मिले थे। यह वोट टोटल वोटिंग के 64 फीसदी माने जाते हैं।

  7. झारखंड की पहली राज्यपाल कौन है?

    द्रौपदी मुर्मू झारखंड की पहली राज्यपाल हैं।

  8. द्रौपदी मुर्मू के पति और बेटी का नाम क्या है?

    द्रौपदी मुर्मू के पति का नाम श्याम चरण मुर्मू था जो कि अब इस दुनिया में नही रहे हैं। उनकी एक बेटी है जिनका नाम इतिश्री हैं। उनकी बेटी की शादी हो चुकी हैं।



निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस लेख के माध्यम से बताया है draupadi murmu biography in hindi इसके अलावा इस लेख के माध्यम से बहुत सारी महत्वपूर्ण जानकारी भी प्रदान की हैं। हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह लेख आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा। 

अगर आप और कुछ अधिक जानना चाहते हैं तो हमे कमेंट बोक्स में कमेंट करे। हम आपके प्रश्नों के उत्तर देने की कोशिश करेगे। हमारा लेख पढने के लिए धन्यवाद।

Leave a Comment