Wipro Share Price Target 2023, 2024, 2025, 2030 सम्पूर्ण जानकारी

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

आज के इस आर्टिकल में हम Wipro Share Price Target के बारे में जानेंगे और साथ में हम जानेंगे कि इस कंपनी का आने वाला भविष्य कैसा हो सकता है और इस कंपनी में कितना रिस्क है? अगर आपको इन सब के बारे में जानकारी चाहिए तो आपको इस आर्टिकल को ध्यान से पढना होगा|

तो चलिए ज्यादा देर ना करते हुए शुरू करते है इस आर्टिकल को और जानते है Wipro Share Price Target 2023, 2024, 2025, 2030 के बारे में सम्पूर्ण जानकारी –

विप्रो लिमिटेड के बारे में पूरी जानकारी (Wipro Review in Hindi)

विप्रो लिमिटेड एक मल्टीनेशनल इनफार्मेशन टेक्नोलोजी, कंसल्टेसी और व्यवसाय प्रक्रिया सेवा कंपनी है जिसका मुख्यालय बेंगलुरु, भारत में है। यह दुनिया की अग्रणी बड़ी टेक कंपनियों में से एक है, जिसके 250,000 से अधिक कर्मचारी 66 देशों में ग्राहकों को सेवा प्रदान करते हैं।

विप्रो की क्षमताएं क्लाउड कंप्यूटिंग, कंप्यूटर सुरक्षा, डिजिटल परिवर्तन, आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस, रोबोटिक्स, डेटा एनालिटिक्स और अन्य प्रौद्योगिकी परामर्श सेवाओं तक फैली हुई हैं। कंपनी के पांच मुख्य मूल्य सम्मान, जवाबदेही, संचार, प्रबंधन और विश्वास हैं।

Wipro Share Price Target

विप्रो की स्थापना 1945 में एक वनस्पति तेल कंपनी के रूप में हुई थी। 1970 के दशक में, कंपनी ने सूचना प्रौद्योगिकी सेवाओं में विविधता लाना शुरू किया। 1980 और 1990 के दशक में विप्रो का आईटी व्यवसाय तेजी से बढ़ा और कंपनी दुनिया में अग्रणी आईटी आउटसोर्सिंग प्रदाताओं में से एक बन गई।

हाल के वर्षों में, विप्रो ने अपना ध्यान आईटी आउटसोर्सिंग से आगे बढ़ाकर परामर्श, व्यवसाय प्रक्रिया सेवाओं और अन्य क्षेत्रों को शामिल किया है। कंपनी ने क्लाउड कंप्यूटिंग, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और रोबोटिक्स जैसी उभरती प्रौद्योगिकियों में भी महत्वपूर्ण निवेश किया है।

विप्रो सार्वजनिक रूप से कारोबार करने वाली कंपनी है जो बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज और न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध है। कंपनी के चेयरमैन अजीम प्रेमजी हैं, जो दुनिया के सबसे अमीर लोगों में से एक हैं।

Wipro के वितीय आंकड़े निम्न प्रकार से है –

मुख्य बिंदुविवरण
मार्केट कैप₹2,38,198 करोड़
03 जनवरी 2024 के अनुसार शेयर प्राइस₹456
52 वीक हाई लेवल प्राइस₹484
52 वीक लो लेवल प्राइस₹352
स्टॉक P/E रेश्यो19.5
डिविडेंड यील्ड0.25%
ROCE (Return on Capital Employed)17.7%
ROE (Return on Equity)15.9%

इस कम्पनी का शेयर होल्डिंग पैटर्न निम्न प्रकार से है –

शेयर होल्डर्सकुल शेयर (%में)
प्रमोटर्स72.92
विदेशी संस्थागत निवेशक (FII’s) 6.38
घरेलु संस्थागत निवेशक (DII’s) 8.01
अन्य0.18
पब्लिक12.51

अब हम Wipro Share Price Target के बारे में विस्तार से जानते है –

2023 में Wipro का शेयर प्राइस टारगेट (Wipro Share Price Target 2023 in Hindi)

हाल ही में विप्रो ने अपने शेयर वापिस खरीदने यानि शेयर बायबैक करने का ऐलान किया है| कंपनी के इस ऐलान के अनुसार कंपनी सितम्बर की पहली तिमाही में अपने 12,000 करोड़ रुपये के शेयर वापिस खरीदने की योजना बना रही है|

विप्रो के निदेशक मंडल ने 26.96 करोड़ इक्विटी शेयर खरीदने की मंजूरी 445 रुपये प्रति शेयर के भाव पर दी है। रिपोर्ट के मुताबिक, इस प्रस्ताव के पक्ष में 99.9 प्रतिशत शेयरधारकों ने डाक मत और ई-वोटिंग प्रक्रिया के जरिये मत दिया। ई-वोटिंग तीन मई सुबह शुरू हुई थी और एक जून को समाप्त हुई।

विप्रो के निदेशक मंडल ने कुल 26,96,62,921 शेयर वापस खरीदने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है। यह कंपनी के 4.91 प्रतिशत कुल चुकता इक्विटी शेयरों के बराबर है। कम्पनी के इस ऐलान के बाद इस के शेयरों में तेजी देखी जा रही है|

See also  [Best Dividend Stock] Taparia Tools Share Price Target 2023, 2024, 2025, 2030 सम्पूर्ण जानकारी

इन सब कारणों को देखते हुए अगर हम Wipro Share Price Target 2023 की बात करें तो इस कंपनी का पहला शेयर प्राइस टारगेट 450 और दूसरा शेयर प्राइस टारगेट 510 रूपये हो सकता है|

2024 में Wipro का शेयर प्राइस टारगेट (Wipro Share Price Target 2024 in Hindi)

2024 में Wipro Share Price Target 590 रूपये से 650 रूपये के बीच में रहने की उम्मीद है| विप्रो, TCS, इन्फोसिस, और एचसीएल टेक्नोलॉजीज के बाद भारतीय कंपनियों में चौथी सबसे बड़ी ग्लोबल आईटी सेवा प्रदान करने वाली कंपनी है। महामारी के बाद से तेजी से बढ़ती टेक्नोलॉजी के कारण, विप्रो के बिज़नेस पर एक अच्छा प्रभाव देखा जा रहा है, जिसके कारण कंपनी की आय में भी एक महत्वपूर्ण उछाल आई है।

हालांकि, पिछले कुछ समय से ग्लोबल इकॉनमी में स्लोडाउन के कारण, विप्रो के बिज़नेस पर इसका प्रभाव देखा जा रहा है, लेकिन आने वाले दिनों में ग्लोबल इकॉनमी में सुधार की पूरी उम्मीद है। इससे उम्मीद की जा सकती है कि विप्रो के बिज़नेस में बढ़ोतरी और शेयर मूल्य में उछाल देखने को मिलेगी।

धीरे-धीरे विप्रो अपने व्यापार की ग्रोथ को बढ़ाने के लिए कंपनी लगातार अपने राजस्व स्रोतों को बढ़ाने पर मेनेजमेंट द्वारा विभिन्न रणनीतियों के तहत काम कर रही है। देखने योग्य है कि कंपनी वर्तमान में स्वास्थ्य, ऊर्जा, तकनीक, विनिर्माण, संचार आदि जैसे और भी कई क्षेत्रों के लिए अपनी बेहतरीन आईटी सेवाओं का प्रस्ताव पेश कर रही है।

आने वाले समय में भी यह देखने को मिलेगा कि कंपनी अपने राजस्व को बढ़ाने के लिए और भी नए क्षेत्रों के लिए अपनी बेहतरीन आईटी सेवाएं प्रदान करने का काम जारी रखेगी। जैसे-जैसे कंपनी अपनी आईटी सेवाएं विभिन्न नई उद्योगों में भी पेश करेगी, इससे विप्रो के राजस्व स्रोत में वृद्धि होगी और व्यापार में बहुत ही उत्कृष्ट ग्रोथ देखने को मिलेगी।

ऐसे में अगर हम Wipro Share Price Target 2024 की बात करें तो इसका पहला शेयर प्राइस टारगेट 590 रूपये और दूसरा शेयर प्राइस टारगेट 650 रूपये पर जा सकता है|

2025 में Wipro का शेयर प्राइस टारगेट (Wipro Share Price Target 2025 in Hindi)

Wipro अपने बिज़नेस को लेकर कई फ्यूचर प्लान कर रहा है जिसमें से कंपनी के कुछ फ्यूचर प्लान्स निम्नलिखित है –

  1. क्लाउड: विप्रो का फुलस्ट्राइड क्लाउड व्यवसाय पूरी तरह से एकीकृत, पूर्ण स्टैक पेशकश है जिसमें क्लाउड नेटिव एप्लिकेशन, क्लाउड आर्किटेक्चर, ऐप्स आधुनिकीकरण, क्लाउड रणनीति और माइग्रेशन, साथ ही क्लाउड इंफ्रास्ट्रक्चर शामिल है। कंपनी क्लाउड-केंद्रित कंपनियों का अधिग्रहण करके और अनुसंधान एवं विकास में निवेश करके अपनी क्लाउड क्षमताओं का विस्तार करने की योजना बना रही है।
  2. उभरती प्रौद्योगिकियां: विप्रो वेब3, मेटावर्स, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और रोबोटिक्स जैसी उभरती प्रौद्योगिकियों में निवेश कर रही है। कंपनी का मानना है कि इन तकनीकों में व्यवसायों और उद्योगों को बदलने की क्षमता है। विप्रो इन क्षेत्रों में क्षमताओं का निर्माण कर रहा है और प्रतिभा हासिल कर रहा है ताकि अपने ग्राहकों को इन तकनीकों को अपनाने और उनसे लाभ उठाने में मदद मिल सके।
  3. कार्यबल परिवर्तन: विप्रो अपने कार्यबल को अधिक चुस्त और परिवर्तन के अनुकूल बनाने के लिए परिवर्तन कर रहा है। कंपनी कार्यों को स्वचालित करने और कर्मचारियों को अधिक रणनीतिक कार्यों पर ध्यान केंद्रित करने के लिए मुक्त करने के लिए स्वचालन और एआई का उपयोग कर रही है। विप्रो अपने कर्मचारियों को भविष्य के काम के लिए कौशल बढ़ाने और फिर से कुशल बनाने में मदद करने के लिए प्रशिक्षण और विकास में भी निवेश कर रहा है।
  4. स्थिरता: विप्रो स्थिरता के लिए प्रतिबद्ध है और उसने अपने कार्बन उत्सर्जन और पर्यावरणीय प्रभाव को कम करने के लिए महत्वाकांक्षी लक्ष्य निर्धारित किए हैं। कंपनी रिन्यूएबल एनर्जी और टिकाऊ प्रौद्योगिकियों में भी निवेश कर रही है। विप्रो का मानना है कि स्थिरता न केवल सही चीज़ है, बल्कि यह व्यवसाय के लिए भी अच्छी है।

ऐसे में अगर हम Wipro Share Price Target 2025 के बारे में बात करें तो इस कंपनी का 2025 में पहला शेयर प्राइस टारगेट 690 और दूसरा शेयर प्राइस टारगेट 790 रूपये हो सकता है|

2026 में Wipro का शेयर प्राइस टारगेट (Wipro Share Price Target 2026 in Hindi)

Wipro के बहुत से ऐसे प्रोजेक्ट है जो अभी निर्माणाधीन चल रहे है| अगर कम्पनी के ये प्रोजेक्ट समय पर पूरे हो जाते है तो कम्पनी के बिज़नेस में तगड़ी ग्रोथ हो सकती है| कम्पनी के कुछ मुख्य प्रोजेक्ट्स निम्नलिखित है –

  1. इंडस्ट्रियल मेटावर्स: विप्रो अपने ग्राहकों के लिए एक औद्योगिक मेटावर्स विकसित करने की परियोजना पर काम कर रहा है। औद्योगिक मेटावर्स कंपनियों को अपने कारखानों और उत्पादन लाइनों का आभासी प्रतिनिधित्व बनाने में सक्षम करेगा। इससे कंपनियों को वास्तविक दुनिया में लागू होने से पहले नए उत्पादों और प्रक्रियाओं का अनुकरण और परीक्षण करने की अनुमति मिलेगी।
  2. DICE ID (Decentralized Identity And Credential Exchange): विप्रो ने एक विकेन्द्रीकृत पहचान और क्रेडेंशियल एक्सचेंज (DICE) आईडी विकसित की है। DICE ID एक ब्लॉकचेन-आधारित समाधान है जो उपयोगकर्ताओं को अपनी पहचान और क्रेडेंशियल्स को सुरक्षित रूप से संग्रहीत और साझा करने की अनुमति देता है। इससे उपयोगकर्ताओं के लिए ऑनलाइन अपनी पहचान साबित करना और सत्यापन की आवश्यकता वाली सेवाओं तक पहुंच आसान हो जाएगी।
  3. Wipro ai360: विप्रो ai360 एक एंड-टू-एंड AI इकोसिस्टम है जो व्यवसायों को उनके डिजिटल परिवर्तन में तेजी लाने में मदद करता है। विप्रो ai360 में AI-संचालित समाधानों का एक सूट शामिल है जिसका उपयोग विभिन्न उद्देश्यों के लिए किया जा सकता है, जैसे ग्राहक सेवा, धोखाधड़ी का पता लगाना और पूर्वानुमानित विश्लेषण।
  4. विप्रो फुलस्ट्राइड क्लाउड: विप्रो फुलस्ट्राइड क्लाउड एक पूरी तरह से एकीकृत, पूर्ण स्टैक क्लाउड प्लेटफ़ॉर्म है जो व्यवसायों को क्लाउड कंप्यूटिंग को अपनाने और उससे लाभ उठाने में मदद करता है। विप्रो फुलस्ट्राइड क्लाउड में क्लाउड-आधारित सेवाओं का एक सूट शामिल है जिसका उपयोग विभिन्न उद्देश्यों के लिए किया जा सकता है, जैसे कि एप्लिकेशन विकास, बुनियादी ढांचा प्रबंधन और आपदा वसूली।
See also  Brightcom Group Share Price Target 2023, 2024, 2025, 2030 सम्पूर्ण जानकारी

इन सब कारणों को देखते हुए अगर हम Wipro Share Price Target 2026 की बात करें तो इस कंपनी का पहला शेयर प्राइस टारगेट 850 रूपये और दूसरा शेयर प्राइस टारगेट 990 रूपये हो सकता है|

2030 में Wipro का शेयर प्राइस टारगेट (Wipro Share Price Target 2030 in Hindi)

विप्रो कंपनी के प्रॉफिट & लॉस अकाउंट को देखकर लग रहा है कि यह कंपनी अपने सेल में साल दर साल अच्छी ग्रोथ कर रही है| 

मार्च 2021 में इस कंपनी की टोटल सेल 61,935 करोड़ रूपये थी जो मार्च 2022 में बढ़कर 79,312 करोड़ रूपये हो गयी थी| वहीं अब मार्च 2023 में इस कंपनी की टोटल सेल 90,488 करोड़ रूपये है|

वहीं अगर हम इस कंपनी के नेट प्रॉफिट की बात करें तो इसके नेट प्रॉफिट में भी बहुत अच्छी ग्रोथ दिखाई दे रही है| मार्च 2021 में इस कंपनी का टोटल नेट प्रॉफिट 10,868 करोड़ रूपये था जो मार्च 2022 में बढ़कर 12,243 करोड़ रूपये हो गया था| वहीं मार्च 2023 में इस कंपनी के टोटल नेट प्रॉफिट में थोड़ी गिरावट देखी गयी है जो कि 161 करोड़ रूपये है|

अधिक जानकारी के लिए आप नीचे दी गयी इमेज को देख सकते है जिसमें कंपनी का प्रॉफिट & लॉस दिखाया गया है –

Wipro Share Price Target

इन सब कारणों को देखते हुए अगर हम Wipro Share Price Target 2030 की बात करें तो इस कंपनी का पहला शेयर प्राइस टारगेट 1820 और दूसरा शेयर प्राइस टारगेट 1950 रूपये हो सकता है|

Wipro Share Price Target 2023, 2024, 2025, 2030 in Table

वर्षपहला शेयर प्राइस टारगेटदूसरा शेयर प्राइस टारगेट
2023450510
2024590650
2025690790
2026850990
203018201950

Wipro शेयर का भविष्य (Future of Wipro Share)

विप्रो एक ग्लोबल आईटी सर्विस कंपनी है जिसका इनोवेशन और विकास का मजबूत ट्रैक रिकॉर्ड है। कंपनी भविष्य की सफलता के लिए अच्छी स्थिति में है, क्योंकि यह क्लाउड, उभरती प्रौद्योगिकियों, कार्यबल परिवर्तन और स्थिरता में निवेश करना जारी रखती है।

यहां कुछ कारक दिए गए हैं जो विप्रो शेयरों के सकारात्मक भविष्य में योगदान दे सकते हैं –

  1. क्लाउड कंप्यूटिंग बाजार की वृद्धि: क्लाउड कंप्यूटिंग बाजार तेजी से बढ़ रहा है, और विप्रो इस वृद्धि से लाभ उठाने के लिए अच्छी स्थिति में है। कंपनी का फुलस्ट्राइड क्लाउड व्यवसाय क्लाउड-आधारित सेवाओं का अग्रणी प्रदाता है और विप्रो इस क्षेत्र में निवेश करना जारी रखे हुए है।
  2. उभरती प्रौद्योगिकियों को अपनाना: विप्रो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, मशीन लर्निंग और ब्लॉकचेन जैसी उभरती प्रौद्योगिकियों में निवेश कर रहा है। इन प्रौद्योगिकियों में व्यवसायों और उद्योगों को बदलने की क्षमता है, और विप्रो अपने ग्राहकों को इन प्रौद्योगिकियों को अपनाने और उनसे लाभ उठाने में मदद करने के लिए अच्छी स्थिति में है।
  3. कार्यबल का परिवर्तन: कार्यबल तेजी से बदल रहा है, और विप्रो अपने कार्यबल को अधिक चुस्त और परिवर्तन के अनुकूल बना रहा है। कंपनी कार्यों को स्वचालित करने और कर्मचारियों को अधिक रणनीतिक कार्यों पर ध्यान केंद्रित करने के लिए मुक्त करने के लिए स्वचालन और एआई का उपयोग कर रही है। विप्रो अपने कर्मचारियों को भविष्य के काम के लिए कौशल बढ़ाने और फिर से कुशल बनाने में मदद करने के लिए प्रशिक्षण और विकास में भी निवेश कर रहा है।
  4. स्थिरता के प्रति प्रतिबद्धता: विप्रो स्थिरता के लिए प्रतिबद्ध है और उसने अपने कार्बन उत्सर्जन और पर्यावरणीय प्रभाव को कम करने के लिए महत्वाकांक्षी लक्ष्य निर्धारित किए हैं। कंपनी नवीकरणीय ऊर्जा और टिकाऊ प्रौद्योगिकियों में भी निवेश कर रही है। विप्रो का मानना है कि स्थिरता न केवल सही चीज़ है, बल्कि यह व्यवसाय के लिए भी अच्छी है।
See also  Jio Financial Services Share Price Target 2024, 2025, 2026, 2030 [पूरी जानकारी] 

कुल मिलाकर, विप्रो नवाचार और विकास के मजबूत ट्रैक रिकॉर्ड के साथ एक अच्छी स्थिति वाली कंपनी है। कंपनी विकास क्षेत्रों में निवेश कर रही है और अपने कार्यबल में बदलाव कर रही है, जिससे विप्रो के शेयरों के लिए सकारात्मक भविष्य हो सकता है।

Wipro शेयर में रिस्क (Risk in Wipro Share)

विप्रो लाभप्रदता के लंबे इतिहास वाली एक बड़ी भारतीय आईटी कंपनी है। हालाँकि, इसके शेयरों में निवेश से कुछ जोखिम भी जुड़े हुए हैं। इसमे शामिल है –

  1. कंपनी की अमेरिकी बाज़ार पर भारी निर्भरता: विप्रो अपने रेवेन्यु का एक बड़ा हिस्सा अमेरिकी बाज़ार से उत्पन्न करती है। यह कंपनी को अमेरिकी अर्थव्यवस्था या नियामक वातावरण में किसी भी बदलाव के प्रति संवेदनशील बनाता है। उदाहरण के लिए, यदि अमेरिकी सरकार आईटी सेवाओं पर नए टैरिफ लगाती है, तो इसका विप्रो की कमाई पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है।
  2. डिजिटल परिवर्तन बाजार में कंपनी की धीमी वृद्धि: विप्रो डिजिटल परिवर्तन सेवाओं की बढ़ती मांग का लाभ उठाने में धीमी रही है। यह कंपनी के लिए एक बड़ा अवसर है, लेकिन इसे अभी तक पूरी तरह से साकार नहीं किया जा सका है। यदि विप्रो इस क्षेत्र में अपने प्रतिस्पर्धियों के साथ बराबरी करने में विफल रहती है, तो भविष्य में यह बाजार हिस्सेदारी खो सकती है।
  3. कंपनी की उच्च कर्मचारी टर्नओवर दर: विप्रो में कर्मचारी टर्नओवर दर उच्च है, जो कंपनी के भीतर समस्याओं का संकेत हो सकता है। उच्च टर्नओवर से संस्थागत ज्ञान की हानि और उत्पादकता में गिरावट हो सकती है। यदि विप्रो अपने कर्मचारी टर्नओवर दर को कम करने में असमर्थ है, तो इसका दीर्घकालिक प्रदर्शन पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है।
  4. BFSI सेक्टर पर कंपनी का फोकस: विप्रो का सबसे बड़ा ग्राहक खंड बीएफएसआई (बैंकिंग, वित्तीय सेवा और बीमा) क्षेत्र है, जो इसके राजस्व का लगभग 27% हिस्सा है। यह विप्रो को बीएफएसआई कंपनियों के खर्च पैटर्न में किसी भी बदलाव के प्रति संवेदनशील बनाता है। उदाहरण के लिए, यदि बीएफएसआई कंपनियां लागत में कटौती करना शुरू कर देती हैं, तो इसका विप्रो की राजस्व वृद्धि पर महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ सकता है।

अंततः, विप्रो के शेयरों में निवेश करना है या नहीं, इसका निर्णय व्यक्तिगत है। निवेशकों को निर्णय लेने से पहले इसमें शामिल जोखिमों और पुरस्कारों पर सावधानीपूर्वक विचार करना चाहिए।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न 

  1. विप्रो शेयर का भविष्य क्या है?

    विप्रो लाभप्रदता के लंबे इतिहास वाली एक सुस्थापित आईटी कंपनी है। कंपनी नई तकनीकों में भारी निवेश कर रही है, जिससे भविष्य में इसकी वृद्धि को बढ़ावा मिल सकता है।

  2. Wipro के सीईओ का क्या नाम है?

    Wipro के सीईओ श्री थिएरी डेलापोर्टे है|

  3. Wipro पर कर्ज कितना है?

    Wipro पर कुल ₹17,467 करोड़ का कर्ज है जिसे कंपनी कम करने का प्रयास कर रही है|

  4. 2030 में Wipro Share Price Target क्या होगा?

    2030 में Wipro का शेयर 1820 रूपये या 1950 रूपये के टारगेट प्राइस को टच कर सकता है|



निष्कर्ष 

उम्मीद है कि आपको हमारी यह पोस्ट Wipro Share Price Target 2023, 2024, 2025, 2030 अवश्य पसंद आयी होगी| अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों और सोशल मीडिया में अवश्य शेयर करें|

अगर आपको इस पोस्ट सम्बंधित कोई प्रश्न या सुझाव है तो आप हमें कमेंट कर सकते है| हम आपके कमेंट का जवाब देने की हर सम्भव कोशिश करेंगे|

Leave a Comment