Exide Share Price Target 2024, 2025, 2026, 2030 सम्पूर्ण जानकारी

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

आज के इस आर्टिकल में हम Exide Share Price Target के बारे में जानेंगे और साथ में हम जानेंगे कि इस कंपनी का आने वाला भविष्य कैसा हो सकता है और इस कंपनी में कितना रिस्क है? अगर आपको इन सब के बारे में जानकारी चाहिए तो आपको इस आर्टिकल को ध्यान से पढना होगा|

तो चलिए ज्यादा देर ना करते हुए शुरू करते है इस आर्टिकल को और जानते है Exide Share Price Target 2024, 2025, 2026, 2030 के बारे में सम्पूर्ण जानकारी –

एक्साइड इंडस्ट्रीज लिमिटेड के बारे में पूरी जानकारी (Exide Review in Hindi)

एक्साइड इंडस्ट्रीज लिमिटेड एक भारतीय बहुराष्ट्रीय स्टोरेज बैटरी निर्माण कंपनी है जिसका मुख्यालय कोलकाता, भारत में है। यह भारत में ऑटोमोटिव और औद्योगिक लेड-एसिड बैटरियों का सबसे बड़ा निर्माता और दुनिया में चौथा सबसे बड़ा निर्माता है। कंपनी के उत्पादों में ऑटोमोटिव बैटरी, औद्योगिक बैटरी, इन्वर्टर बैटरी, सोलर बैटरी, जेनसेट बैटरी, सबमरीन बैटरी, होम यूपीएस सिस्टम और ई-रिक्शा वाहन शामिल हैं।

एक्साइड इंडस्ट्रीज की स्थापना 1905 में अंग्रेज थॉमस मोर्टलॉक और भारतीय व्यवसायी राय बहादुर द्वारकानाथ टैगोर द्वारा एक साझेदारी फर्म के रूप में की गई थी। कंपनी की पहली फैक्ट्री 1910 में कोलकाता में स्थापित की गई थी। 1913 में एक्साइड इंडस्ट्रीज एक लिमिटेड कंपनी बन गई।

Exide Share Price Target

शुरुआती वर्षों में, एक्साइड इंडस्ट्रीज ने ऑटोमोटिव बैटरी के निर्माण पर ध्यान केंद्रित किया। कंपनी की बैटरियों का उपयोग कारों, ट्रकों और बसों सहित विभिन्न वाहनों में किया जाता था। 1960 के दशक में, एक्साइड इंडस्ट्रीज ने औद्योगिक बैटरियों को शामिल करने के लिए अपनी उत्पाद श्रृंखला का विस्तार करना शुरू किया। कंपनी की औद्योगिक बैटरियों का उपयोग दूरसंचार, पावर बैकअप और खनन सहित विभिन्न अनुप्रयोगों में किया जाता है।

1990 के दशक में, एक्साइड इंडस्ट्रीज ने नई प्रौद्योगिकियों के विकास पर ध्यान केंद्रित करना शुरू किया। कंपनी ने वाल्व-रेगुलेटेड लेड-एसिड (वीआरएलए) बैटरी और लिथियम-आयन बैटरी जैसी नई बैटरी प्रौद्योगिकियों को विकसित करने के लिए अनुसंधान और विकास में निवेश किया। वीआरएलए बैटरियों का उपयोग दूरसंचार, यूपीएस और सौर सहित विभिन्न अनुप्रयोगों में किया जाता है। लिथियम-आयन बैटरियों का उपयोग इलेक्ट्रिक वाहनों और बिजली उपकरणों सहित विभिन्न अनुप्रयोगों में किया जाता है।

आज, एक्साइड इंडस्ट्रीज स्टोरेज बैटरी की अग्रणी वैश्विक निर्माता है। कंपनी की विनिर्माण सुविधाएं भारत, चीन, संयुक्त राज्य अमेरिका और यूरोप में हैं। एक्साइड इंडस्ट्रीज के उत्पाद 90 से अधिक देशों में बेचे जाते हैं।

यहां कंपनी की कुछ प्रमुख उपलब्धियां दी गई हैं –

  • 2018 में, एक्साइड इंडस्ट्रीज इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए लिथियम-आयन बैटरी बनाने वाली पहली भारतीय कंपनी बन गई।
  • 2019 में, एक्साइड इंडस्ट्रीज ने यूके स्थित बैटरी निर्माता क्लोराइड बैटरीज का अधिग्रहण किया।
  • 2020 में, एक्साइड इंडस्ट्रीज का रेवेन्यु ₹12,851 करोड़ (US$1.6 बिलियन) था।

एक्साइड इंडस्ट्रीज बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया में सूचीबद्ध सार्वजनिक रूप से कारोबार करने वाली कंपनी है। कंपनी के चेयरमैन सुबीर चक्रवर्ती और प्रबंध निदेशक दीपक अग्रवाल हैं।

Exide के वितीय आंकड़े निम्न प्रकार से है –

मुख्य बिंदुविवरण
मार्केट कैप₹ 28,764 करोड़
09 फरवरी 2024 के अनुसार शेयर प्राइस₹328
52 वीक हाई लेवल प्राइस₹354
52 वीक लो लेवल प्राइस₹170
स्टॉक P/E रेश्यो29.4
डिविडेंड यील्ड0.66%
ROCE (Return on Capital Employed)10.2%
ROE (Return on Equity)7.28%

इस कम्पनी का शेयर होल्डिंग पैटर्न निम्न प्रकार से है –

शेयर होल्डर्सकुल शेयर (%में)
प्रमोटर्स45.99
विदेशी संस्थागत निवेशक (FII’s) 12.32
घरेलु संस्थागत निवेशक (DII’s) 18.92
पब्लिक22.76

अब हम Exide Share Price Target के बारे में विस्तार से जानते है –

2024 में Exide का शेयर प्राइस टारगेट (Exide Share Price Target 2024 in Hindi)

Exide बैटरी निर्माण का कार्य करती है और यह अब इलेक्ट्रिक वाहनों में काम आने वाली बैटरी का निर्माण कर रही है| और इलेक्ट्रिक वाहनों की डिमांड कितनी बढ़ रही है और आने वाले समय में कितनी और बढ़ेगी ये तो आपको पता ही होगा| इस बढती मांग का फायदा उठाने के लिए कंपनी काफी अच्छी स्थिति में है|

इसके अलावा अगर हम कंपनी के शेयर प्राइस के बारे में बात करें तो इस कम्पनी ने पिछले 6 माह में 28.11% का रिटर्न दिया है| वहीं पिछले एक साल में इस शेयर ने 68.65% का रिटर्न दिया है|

1 जनवरी 1999 को यह शेयर 6.89 रूपये के भाव पर था और आज यह शेयर 232 रूपये से ऊपर के भाव पर चल रहा है| 1 जनवरी 1999 से लेकर अब तक इस शेयर ने 3,273.00% का शानदार रिटर्न दिया है| शेयर प्राइस में तेजी की ये प्रवृति आगे भी जारी रहने की उम्मीद है|

इन सब कारणों को देखते हुए अगर हम Exide Share Price Target 2024 की बात करें तो इस कंपनी का पहला शेयर प्राइस टारगेट 350 और दूसरा शेयर प्राइस टारगेट 460 रूपये हो सकता है|

2025 में Exide का शेयर प्राइस टारगेट (Exide Share Price Target 2025 in Hindi)

2024 में Exide Share Price Target 480 रूपये से 500 रूपये के बीच में रहने की उम्मीद है| इलेक्ट्रिक वाहनों और ऊर्जा भंडारण प्रणालियों की बढ़ती मांग के कारण वैश्विक बैटरी बाजार 2022 से 2027 तक 8.2% की सीएजीआर से बढ़ने की उम्मीद है। एक्साइड इस वृद्धि का लाभ उठाने के लिए अच्छी स्थिति में है, क्योंकि यह भारत में अग्रणी बैटरी निर्माताओं में से एक है।

एक्साइड अफ्रीका और दक्षिण अमेरिका जैसे नए बाजारों में अपने परिचालन का विस्तार कर रहा है। इससे कंपनी को व्यापक ग्राहक आधार तक पहुंचने और अपना राजस्व बढ़ाने में मदद मिलेगी।

एक्साइड लागत कम करके और परिचालन दक्षता बढ़ाकर अपनी लाभप्रदता में सुधार करने के लिए काम कर रहा है। इससे मार्जिन और कमाई बढ़ी है, जिससे कंपनी के शेयर की कीमत बढ़ सकती है।

ऐसे में अगर हम Exide Share Price Target 2025 की बात करें तो इसका पहला शेयर प्राइस टारगेट 480 रूपये और दूसरा शेयर प्राइस टारगेट 500 रूपये पर जा सकता है|

2026 में Exide का शेयर प्राइस टारगेट (Exide Share Price Target 2026 in Hindi)

एक्साइड ने पहले ही भारत के कर्नाटक में 12 गीगावाट-घंटे के लिथियम-आयन सेल विनिर्माण संयंत्र का निर्माण शुरू कर दिया है। संयंत्र का पहला चरण 2025 में पूरा होने की उम्मीद है, दूसरा चरण 2026 में पूरा होगा। एक बार पूरी तरह से चालू होने के बाद, संयंत्र में प्रति वर्ष 6 गीगावाट-घंटे लिथियम-आयन सेल का उत्पादन करने की क्षमता होगी।

लिथियम-आयन बैटरी में एक्साइड का निवेश इलेक्ट्रिक वाहनों (ईवी) की बढ़ती मांग की प्रतिक्रिया है। ईवी लिथियम-आयन बैटरी द्वारा संचालित होते हैं, और आने वाले वर्षों में ईवी का वैश्विक बाजार तेजी से बढ़ने की उम्मीद है। एक्साइड का मानना है कि अपने मजबूत ब्रांड नाम और मौजूदा वितरण नेटवर्क को देखते हुए वह इस वृद्धि का फायदा उठाने के लिए अच्छी स्थिति में है।

लिथियम-आयन बैटरी के अलावा, एक्साइड विकास के अन्य क्षेत्रों, जैसे ऊर्जा भंडारण और सौर बैटरी में भी निवेश कर रहा है। कंपनी का मानना है कि ये बाज़ार भविष्य में विकास की महत्वपूर्ण संभावनाएँ प्रदान करते हैं।

ऐसे में अगर हम Exide Share Price Target 2026 के बारे में बात करें तो इस कंपनी का 2026 में पहला शेयर प्राइस टारगेट 520 और दूसरा शेयर प्राइस टारगेट 550 रूपये हो सकता है|

2027 में Exide का शेयर प्राइस टारगेट (Exide Share Price Target 2027 in Hindi)

Exide Industries के बहुत से ऐसे प्रोजेक्ट है जो अभी निर्माणाधीन चल रहे है| अगर कंपनी के ये प्रोजेक्ट समय पर पूरे हो जाते है तो कंपनी के बिज़नेस में तगड़ी ग्रोथ हो सकती है| कंपनी के कुछ मुख्य प्रोजेक्ट्स निम्नलिखित है –

  1. कर्नाटक में 12 गीगावाट-घंटे (जीडब्ल्यूएच) लिथियम-आयन सेल मैन्युफैक्चरिंग यूनिट। कंपनी पहले ही इस परियोजना में ₹6,000 करोड़ (US$800 मिलियन) का निवेश कर चुकी है और प्लांट का पहला चरण 2024 में चालू होने की उम्मीद है। प्लांट एक चीनी बैटरी निर्माता SVOLT एनर्जी टेक्नोलॉजी की तकनीक का उपयोग करेगा।
  2. एक नया इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) जिसे एक्साइड एनईओ कहा जाता है। NEO एक स्मार्ट, मजबूत और आरामदायक EV है जिसे भारतीय उपभोक्ताओं की जरूरतों को पूरा करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। यह लिथियम-आयन बैटरी द्वारा संचालित है और इसकी रेंज 250 किलोमीटर तक है। NEO को 2023 में भारतीय बाजार में लॉन्च किए जाने की उम्मीद है।
  3. एक नई ऊर्जा भंडारण प्रणाली (ईएसएस) जिसे एक्साइड मैक्स कहा जाता है। मैक्स एक मॉड्यूलर ईएसएस है जिसका उपयोग सौर और पवन ऊर्जा, दूरसंचार और यूपीएस सहित विभिन्न अनुप्रयोगों के लिए किया जा सकता है। इसे स्केलेबल और विश्वसनीय बनाने के लिए डिज़ाइन किया गया है, और इसे ग्राहकों की विशिष्ट आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए अनुकूलित किया जा सकता है। MAX को 2023 में भारतीय बाजार में लॉन्च किए जाने की उम्मीद है।

इसके अलावा एक्साइड इंडस्ट्रीज की बैलेंस शीट भी हेल्दी दिखाई दे रही है| एक्साइड इंडस्ट्रीज ने अपनी बैलेंस शीट को अच्छी तरह से मैनेज किया हुआ है| एक्साइड इंडस्ट्रीज की बैलेंस शीट को आप नीचे दी गयी इमेज के माध्यम से देख सकते है –

exide share price target

इन सब कारणों को देखते हुए अगर हम Exide Share Price Target 2027 की बात करें तो इस कंपनी का पहला शेयर प्राइस टारगेट 600 रूपये और दूसरा शेयर प्राइस टारगेट 750 रूपये हो सकता है|

2030 में Exide का शेयर प्राइस टारगेट (Exide Share Price Target 2030 in Hindi)

अगर हम एक्साइड इंडस्ट्रीज का फंडामेंटल एनालिसिस करें तो कम्पनी के फंडामेंटल काफी आकर्षक नजर आ रहे है| कम्पनी के सेल में लगातार बढ़ोतरी हो रही है| 

मार्च 2021 में कम्पनी की सेल 10,359 करोड़ रूपये था जो मार्च 2022 में बढ़कर 12,789 करोड़ रूपये हो गया है| और वहीं अब मार्च 2023 में इस कम्पनी की टोटल सेल 15,078 करोड़ रूपये है|

कंपनी के नेट प्रॉफिट में थोडा बहुत उतार चढाव रहा है| मार्च 2021 में कंपनी का नेट प्रॉफिट 803 करोड़ रूपये था जो मार्च 2022 में बढ़कर 4,357 करोड़ रूपये हो गया था| मार्च 2023 में कंपनी के नेट प्रॉफिट में काफी कमी आई है| मार्च 2023 में कम्पनी का टोटल नेट प्रॉफिट 823 करोड़ रूपये है| अधिक जानकारी के लिए आप नीचे दी गयी इमेज में बैंक का प्रॉफिट और लॉस अकाउंट देख सकते है –

Exide Share Price Target

यह बैंक अपने निवेशकों को अच्छे डिविडेंड की सुविधा भी प्रदान करता है| कंपनी के EPS और डिविडेंड पेआउट में भी लगातार ग्रोथ हो रही है|

ऐसे में अगर हम Exide Share Price Target 2030 की बात करें तो इस कंपनी का पहला शेयर प्राइस टारगेट 1000 और दूसरा शेयर प्राइस टारगेट 1100 रूपये हो सकता है|

Exide Share Price Target 2024, 2025, 2026, 2030 in Table

वर्षपहला शेयर प्राइस टारगेटदूसरा शेयर प्राइस टारगेट
2024350460
2025480500
2026520550
2027500650
203010001100

Exide शेयर का भविष्य (Future of Exide Share)

एक्साइड इंडस्ट्रीज एक लंबे इतिहास और एक मजबूत ब्रांड नाम के साथ भारत में अग्रणी बैटरी निर्माता है। कंपनी के पास विविध उत्पाद पोर्टफोलियो है, जिसमें ऑटोमोबाइल, औद्योगिक अनुप्रयोगों और सौर ऊर्जा भंडारण के लिए लेड-एसिड बैटरी शामिल हैं। एक्साइड इंडस्ट्रीज इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए लिथियम-आयन बैटरी बाजार में भी एक प्रमुख खिलाड़ी है।

ऐसे कई कारक हैं जो एक्साइड इंडस्ट्रीज के लिए सकारात्मक भविष्य का सुझाव देते हैं। सबसे पहले, भारतीय ऑटोमोटिव बाजार तेजी से बढ़ रहा है, और एक्साइड इंडस्ट्रीज इस वृद्धि से लाभ उठाने के लिए अच्छी स्थिति में है। कंपनी की पैसेंजर कार और कमर्शियल व्हीकल सेगमेंट में मजबूत उपस्थिति है, और यह टू-व्हीलर और थ्री-व्हीलर सेगमेंट में भी अपनी उपस्थिति का विस्तार कर रही है।

दूसरा, सौर ऊर्जा और दूरसंचार क्षेत्रों की वृद्धि के कारण आने वाले वर्षों में लेड-एसिड बैटरियों की मांग बढ़ने की उम्मीद है। एक्साइड इंडस्ट्रीज इन क्षेत्रों में एक प्रमुख खिलाड़ी है, और यह मांग में वृद्धि से लाभ उठाने के लिए अच्छी स्थिति में है।

तीसरा, एक्साइड इंडस्ट्रीज नई बैटरी प्रौद्योगिकियों को विकसित करने के लिए अनुसंधान और विकास में भारी निवेश कर रही है। कंपनी विशेष रूप से इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए लिथियम-आयन बैटरी विकसित करने पर केंद्रित है। आने वाले वर्षों में इलेक्ट्रिक वाहन बाजार की वृद्धि एक्साइड इंडस्ट्रीज के विकास का एक प्रमुख चालक होने की उम्मीद है।

चौथा, भारत सरकार इलेक्ट्रिक वाहनों के उपयोग को बढ़ावा दे रही है, जिससे लिथियम-आयन बैटरी बाजार में एक्साइड इंडस्ट्रीज के लिए नए अवसर पैदा होंगे। कंपनी नए उत्पादों और प्रौद्योगिकियों को विकसित करने के लिए अनुसंधान और विकास में भारी निवेश कर रही है, जिससे उसे प्रतिस्पर्धा में आगे रहने में मदद मिलेगी।

कुल मिलाकर, एक्साइड इंडस्ट्रीज के लिए भविष्य सकारात्मक दिख रहा है। कंपनी के पास एक मजबूत ट्रैक रिकॉर्ड, एक विविध उत्पाद पोर्टफोलियो और नवाचार पर ध्यान केंद्रित है। ये कारक बताते हैं कि एक्साइड इंडस्ट्रीज आने वाले वर्षों में बढ़ने के लिए अच्छी स्थिति में है।

Exide शेयर में रिस्क (Risk in Exide Share)

एक्साइड इंडस्ट्रीज भारत में एक अग्रणी बैटरी निर्माता है। इसका एक मजबूत ब्रांड नाम और व्यापक वितरण नेटवर्क है। हालाँकि, एक्साइड शेयरों में निवेश से जुड़े कुछ जोखिम भी हैं।

  1. हाई डेब्ट लेवल: एक्साइड का डेब्ट टू इक्विटी रेश्यो 1.6 है जो कि हाई  है। इसका मतलब यह है कि कंपनी अपने परिचालन के वित्तपोषण के लिए उसी उद्योग की अन्य कंपनियों की तुलना में अधिक ऋण का उपयोग कर रही है। यदि अर्थव्यवस्था में मंदी आती है तो यह वित्तीय संकट के प्रति अधिक संवेदनशील हो सकता है।
  2. प्रतिस्पर्धा: बैटरी बाजार तेजी से प्रतिस्पर्धी होता जा रहा है। नए खिलाड़ी बाज़ार में प्रवेश कर रहे हैं, और मौजूदा खिलाड़ी अपने उत्पाद की पेशकश का विस्तार कर रहे हैं। इससे एक्साइड के मार्जिन पर दबाव पड़ सकता है।
  3. प्रौद्योगिकी जोखिम: बैटरी बाजार लगातार विकसित हो रहा है। नई प्रौद्योगिकियाँ विकसित की जा रही हैं जो एक्साइड के उत्पादों को अप्रचलित बना सकती हैं। कंपनी को आगे रहने के लिए अनुसंधान और विकास में निवेश करने की आवश्यकता होगी।

इन जोखिमों के बावजूद, एक्साइड लाभप्रदता के लंबे इतिहास के साथ एक अच्छी तरह से प्रबंधित कंपनी है। यह भारत में बैटरी बाजार में भी अग्रणी है। यदि आप एक्साइड शेयरों में निवेश करने पर विचार कर रहे हैं, तो आपको इसमें शामिल जोखिमों और अपने निवेश लक्ष्यों पर सावधानीपूर्वक विचार करना चाहिए।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न 

  1. Exide कंपनी किस सेक्टर में काम करती है?

    Exide भारत में ऑटोमोटिव और औद्योगिक लेड-एसिड बैटरियों का सबसे बड़ा निर्माता और दुनिया में चौथा सबसे बड़ा निर्माता है। कंपनी के उत्पादों में ऑटोमोटिव बैटरी, औद्योगिक बैटरी, इन्वर्टर बैटरी, सोलर बैटरी, जेनसेट बैटरी, सबमरीन बैटरी, होम यूपीएस सिस्टम और ई-रिक्शा वाहन शामिल हैं।

  2. Exide के सीईओ का क्या नाम है?

    Exide के सीईओ सुबीर चक्रवर्ती है|

  3. Exide पर कर्ज कितना है?

    Exide पर कुल ₹2,790.79 का कर्ज है जिसे कंपनी कम करने का प्रयास कर रही है|

  4. Exide का भविष्य कैसा है?

    ऑटोमोटिव और औद्योगिक क्षेत्रों में बैटरी की बढ़ती मांग से एक्साइड इंडस्ट्रीज को फायदा होने की उम्मीद है। कंपनी के पास एक मजबूत ब्रांड नाम और एक व्यापक वितरण नेटवर्क है, जो आने वाले वर्षों में अपनी बाजार हिस्सेदारी बनाए रखने में मदद करेगा।

  5. 2030 में Exide Share Price Target क्या होगा?

    2030 में Exide का शेयर 1000 रूपये या 1100 रूपये के टारगेट प्राइस को टच कर सकता है|



निष्कर्ष 

उम्मीद है कि आपको हमारी यह पोस्ट Exide Share Price Target 2024, 2025, 2026, 2030 अवश्य पसंद आयी होगी| अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों और सोशल मीडिया में अवश्य शेयर करें|

अगर आपको इस पोस्ट सम्बंधित कोई प्रश्न या सुझाव है तो आप हमें कमेंट कर सकते है| हम आपके कमेंट का जवाब देने की हर सम्भव कोशिश करेंगे|

Leave a Comment