Ravindra Jadeja Biography in Hindi 2024 | रविन्द्र जडेजा का जीवन परिचय और उनका क्रिकेट कैरियर

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Ravindra Jadeja Biography in Hindi: आज के इस आर्टिकल में हम बात करेंगे क्रिकेट की दुनिया में अपने नाम से लोगो के दिलो पर राज कर रहे और टीम इंडिया में खुद को साबित करने वाले ऑल राउंडर रविन्द्र जडेजा के बारे में। जिन्हे टीम में सर जडेजा कहकर पुकारा जाता है । 

अगर रविंद्र जडेजा आपका फेवरेट क्रिकेटर है और आप इनके जिंदगी के बारे में जानना चाहते हैं  तो Ravindra Jadeja Biography In Hindi में आपको उनकी पूरी कहानी जानने को मिलेगी। इसीलिए आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़ें। 

रविन्द्र जडेजा के बारे में पूरी जानकारी (Ravindra Jadeja Biography in Hindi)

image 7
Source: Google

रविन्द्र जडेजा भारत के एक इंटरनेशनल क्रिकेटर हैं। वह बाएं हाथ के ऑलराउंडर खिलाड़ी हैं जो बाएं हाथ से ऑर्थोडॉक्स स्पिन गेंदबाजी भी करते हैं और अपने गेंदबाज़ी से सबसे एक्सपीरियंस्ड खिलाड़ियों को भी परेशान कर सकते हैं इसके साथ ही बल्लेबाजी करते समय वह आसानी से बाउंड्री भी पार कर सकते हैं। 

भारत में कई महान क्रिकेटर हुए हैं लेकिन उनमें से कुछ ही ऐसे है जिन्होंने सर जडेजा को पसंद न किया हो।  रविन्द्र जडेजा बल्ले और गेंद दोनों से मैच जीत सकते हैं। उनकी बाएं हाथ की धीमी गेंदें बल्लेबाज को अनकंफर्टेबल कर देती है। सातवें नंबर पर उनकी बल्लेबाजी लास्ट के कुछ ओवरों में फायदेमंद रहती है।

Ravindra Jadeja Biography in Hindi

किसी भी कैप्टन के लिए रविन्द्र जडेजा एक जरूरी ऑल राउंडर हैं। इन्होंने एमएस धोनी के साथ मिलकर और अपने गेंदबाजी के दम पर काफी नाम बनाया है । वह 2019 वर्ल्ड कप टीम के एक जरूरी मेंबर थे। 

वास्तविक नामरविन्द्र सिंह अनिरुद्ध सिंह जडेजा
पेशाक्रिकेटर
जन्म की तारीख6 दिसंबर 1988
आयु (2023 में)34 वर्ष
जन्मस्थलजामनगर , गुजरात
राष्ट्रीयताभारतीय
धर्महिंदू
पत्नीरीवा सोलंकी
बच्चेबेटी निध्याना
शौकघुड़सवारी 

रविन्द्र जडेजा का जन्म और उनका प्रारंभिक जीवन

रविन्द्र जडेजा का पूरा नाम रविन्द्र सिंह अनिरुद्ध सिंह जडेजा है जिनका  जन्म 6 दिसंबर 1988 को हुआ था जो भारत के गुजरात के जामनगर जिले के नवागाम घेड़ से हैं। शुरुआती दिनों में रविन्द्र जडेजा के पिता का सपना अपने बेटे के लिए आर्मी में जाने का था। हालांकि जडेजा ने अपने तरीके से देश की सेवा करने के अपने पिता के सपने को पूरा किया। 

उनका परिवार एक कमरे के फ्लैट में रहता था। रविन्द्र जडेजा 10 साल की उम्र से ही क्रिकेट खेलते थे । उनके कोच महेंद्रसिंह चौहान जो की एक क्रिकेटर थे वह क्रिकेट बंगले नाम के जगह पर छोटे बच्चों को कोचिंग देते थे। 

रविन्द्र जडेजा किसी तरह उनसे ट्रेनिंग लेने में कामयाब रहे। इसके बाद उन्होंने एक तेज गेंदबाज के रूप में शुरुआत की। लेकिन बाद में उनके कोच चौहान के कहने पर रविन्द्र जडेजा बाएं हाथ से स्पिन की प्रैक्टिस करने लगे । 

रविन्द्र जडेजा का करियर (Ravindra Jadeja’s Carrier)

16 साल की उम्र में जडेजा ने 2005 में भारतीय टीम के लिए अंडर-19 क्रिकेट में डेब्यू किया। 2006 में, उन्हें अंडर-19 वर्ल्ड कप के लिए टीम में चुना गया। उन्होंने 2006-07 दलीप ट्रॉफी में वेस्ट जोन के लिए खेलते हुए डेब्यू किया, उसके बाद जडेजा 2008 में अंडर-19 वर्ल्ड कप जीतने वाली विराट कोहली की टीम के मेंबर थे। कुछ साल बाद, वह राजस्थान रॉयल्स में शामिल हो गए और आईपीएल में डेब्यू किया। 

See also  Draupadi Murmu Biography In Hindi | 2024 में द्रौपदी मुर्मू का सम्पूर्ण जीवन परिचय

टीम के कप्तान और कोच शेन वार्न ने उन्हें ‘रॉकस्टार’ कहा, और फिर कुछ सालो बाद एक टूर्नामेंट में उड़ीसा के खिलाफ, उन्होंने 232 रन बनाए और पांचवें विकेट के लिए चेतेश्वर पुजारा के साथ 520 रन जोड़े। उन्होंने चार सीज़न बाद गुजरात के खिलाफ सागर जोगियानी के साथ 539 रन बनाए । 

 3 लगातार सेंचुरी लगाने वाले जडेजा पहले भारतीय थे जो गुजरात में हुए मैच में  303 रन बनाए थे । इन सबके बीच, आस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने 2009 वर्ल्ड टी20 में जडेजा के साथ अच्छा व्यवहार नही किया और उन्हें बाहर कर दिया। उससे पहले उनके पहले ओवर की आखिरी तीन गेंदों पर शेन वॉटसन और दूसरे ओवर की शुरुआती तीन गेंदों पर डेविड वार्नर ने लगातार छह छक्के लगाए थे ।

उन छह गेंदों की वजह से सोशल मीडिया पर कुछ देर तक जडेजा का मजाक उड़ाया गया, उन्हें ‘ट्रोल’ किया जाने लगा था यहां तक कि एमएस धोनी, जिन्होंने भारत और चेन्नई सुपर किंग्स दोनों के लिए कैप्टन के रूप में काम किया, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उस सीरीज में, उन्होंने 17.45 की औसत से 24 विकेट लिए, जिसमें तीन टेस्ट मैचों में माइकल क्लार्क के पांच विकेट भी शामिल थे।  

जडेजा भारत की 2013 चैंपियंस ट्रॉफी की जीत में एक इमोर्टनेट रोल निभाया जिसमे उन्होंने 12.83 की औसत से 12 विकेट लिए और 148 की स्ट्राइक रेट से बिना आउट हुए 80 रन बनाए। फाइनल में उनकी 25 गेंदों में 33* रन और 24 रन पर 2 विकेट ने उन्हें मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार दिलाया। 2015 में, उन्होंने फॉर्म खो दिया और डोमेस्टिक क्रिकेट से बाहर हो गए । पर कुछ सालो बाद वह 10.82 पर 23 विकेट लेकर टीम में लौटे। हालाँकि, 2016-17 के लंबे डोमेस्टिक सीज़न के दौरान जडेजा के करियर में एक नया मोड़ आया, जब उन्होंने 42.76 की औसत से 556 रन बनाए और 22.83 की औसत से 71 विकेट लिए। 

किसी ने भी इतने विकेट नहीं लिए थे जितने जड़ेजा एक सीज़न में लिया था । उस सीज़न के दौरान, उन्होंने पांच टेस्ट मैचों में छह बार एलिस्टर कुक को आउट किया और चेन्नई में इंग्लैंड के खिलाफ उसी टेस्ट में, जडेजा हाफ सेंचुरी बनाने, दस विकेट लेने और चार कैच पकड़ने वाले पहले खिलाड़ी बने। सीज़न के अंत में, वह आईसीसी रैंकिंग में टॉप पर पहुंच गए ।

5 अक्टूबर, 2018 को उन्होंने अपना पहला टेस्ट शतक बनाया। मार्च 2019 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे वनडे के दौरान  2,000 रन बनाने और 150 विकेट लेने वाले भारत के तीसरे क्रिकेटर बने। उन्हें अप्रैल 2019 में क्रिकेट वर्ल्ड कप के लिए भारत की टीम में सेलेक्ट किया गया था।

अक्टूबर 2019 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट में रविन्द्र जडेजा ने अपना 200 वां टेस्ट विकेट लिया। सितंबर 2021 में 2021 ICC Men’s T20 World Cup के लिए जडेजा को भारत की टीम में सेलेक्ट किया गया था। 

5 मार्च 2022 को श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट मैच में जडेजा ने 175 रन बनाकर कपिल देव का 35 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया। उन्होंने 7 या उससे कम नंबर पर हाईएस्ट स्कोर का नया रिकॉर्ड बनाया। इसके बाद  दो पारियों में 5/41 और 4/46 के साथ कुल 9/87 रन बनाए, जिससे भारत ने श्रीलंका को एक पारी और 222 रनों से हराया। भारत के 2022 के इंग्लैंड दौरे के पांचवें टेस्ट मैच में, जडेजा ने अपना पहला फॉरेन सेंचुरी बनाया। 

उन्हें जुलाई 2022 में वेस्ट इंडीज के खिलाफ  वनडे सीरीज के लिए भारत का वाइस कैप्टन चुना । एमएस धोनी के बाद, रविन्द्र जडेजा को 2022 आईपीएल सीज़न के लिए चेन्नई सुपर किंग्स का कैप्टन बनाया गया है। पर उन्होंने धोनी को कैप्टेंसी सौंपते हुए सीजन के बीच में ही इस्तीफा दे दिया। बाद में पसली की चोट के कारण उन्हें टूर्नामेंट से बाहर कर दिया गया। 

See also  Rajeev Chandrasekhar Biography In Hindi | केन्द्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर का जीवन परिचय 2024

रविन्द्र जडेजा का संघर्ष (Ravindra Jadeja’s Struggle)

रवीन्द्र जडेजा की मां लताबेन, जो एक पब्लिक अस्पताल में नर्स के रूप में काम करती थीं, परिवार का सारा खर्च वो अकेले ही उठाती थीं। उनके पिता अनिरुद्ध सिंह ने कई तरह की नौकरियों में अपना हाथ आजमाया, जिसमें एक चौकीदार की नौकरी भी शामिल थी। 

उनकी दो बहनें नैना और पद्मिनी ने गुजारा करने की पूरी कोशिश की। अनिरुद्धसिंह का पालन-पोषण गुजरात के नवागाम घेड़ में एक राजपूत परिवार में हुआ था। रवीन्द्र जडेजा उनके तीन बच्चों में सबसे छोटे थे, लेकिन वह उनके पालन-पोषण में लगी रहीं। 

जडेजा का बचपन गुजरात के नवागाम घेड़ में एक कमरे के अपार्टमेंट में बीता। क्योंकि उनकी मां लता जडेजा घर का सारा खर्च उठाती थी। उनकी माँ ने उन सभी प्रोब्लम से बहादुरी से लड़ाई लड़ी जो महिलाओं को काम करने से रोकती थीं। उनके पिता अनिरुद्ध जडेजा अक्सर छोटी-छोटी नौकरियाँ करते थे जो लंबे समय तक नहीं चलती थीं।

रवीन्द्र जडेजा जब स्कूल में पढ़ते थे तो स्कूल से घर जाते समय अक्सर रोते थे क्योंकि उनके सीनियर्स ने उन्हें कभी बल्लेबाजी करने का मौका देते थे। महेंद्रसिंह चौहान, पेशे से एक पुलिस ऑफिसर और पार्ट टाइम क्रिकेटर थे जो क्रिकेट बंगला नाम के  जगह पर कुछ युवा खिलाड़ियों को सलाह देते थे। 

वह जडेजा के टीचर  थे। जडेजा, जो शुरू में तेज़ गेंदबाज़ी में इंट्रस्ट रखते थे, एक बाएं हाथ के ऑर्थोडॉक्स स्पिनर में बदल गए। चौहान बहुत हार्ड कोच थे, गलती करने पर वो जडेजा को थप्पड़ भी मारते थे।

रविन्द्र जडेजा को क्रिकेट बंगले के लिए चुने जाने या आर्मी स्कूल में भेजे जाने का ऑप्शन दिया गया था। उन्होने  क्रिकेट को चुना! एक तेज गेंदबाज के रूप में शुरुआत करने के बाद, चौहान ने उन्हें बाएं हाथ की स्पिन में बदल दिया और 2005 में जडेजा ने 16 साल की उम्र में भारत के लिए अंडर-19 में डेब्यू किया। 

फिर जडेजा  को तब भारतीय टीम का वाइस कैप्टन चुना गया, जिसने ऑस्ट्रेलिया को हराकर 2008 अंडर-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप जीता था। राजस्थान रॉयल्स ने उन्हें आईपीएल कॉन्ट्रैक्ट ऑफर की और यहीं से जडेजा का करियर आगे बढ़ा। उन्होंने 2009 में भारत के लिए अपना पहला वनडे और टी20 मैच खेला। 

23 साल की उम्र में, जडेजा एक ही मैच में  तीन सेंचुरी बनाने वाले पहले भारतीय और क्रिकेट इतिहास में केवल आठवें बल्लेबाज बनकर इतिहास रच दिया। एक गेंदबाजी ऑलराउंडर के रूप में अपने टेस्ट करियर की शुरुआत करने के बाद, वह बाद में एक सच्चे ऑलराउंडर के रूप में सामने आए । 

रविन्द्र जडेजा रिकॉर्ड्स (Ravindra Jadeja’s Records)

  • 2018 ICC टॉप 10 टेस्ट ऑलराउंडरों में, रविन्द्र जडेजा दूसरे स्थान पर थे।
  • अगस्त 2013 में, ICC ने रवीन्द्र जडेजा को वनडे टूर्नामेंट में बेस्ट गेंदबाज का दर्जा मिला ।
  • 2019 में अर्जुन पुरस्कार से रविन्द्र जडेजा को सम्मानित किया गया।
  • वन डे इंटरनेशनल मैचेज में 2,000 रन और 150 विकेट तक पहुंचने वाले रविन्द्र जडेजा तीसरे भारतीय क्रिकेटर हैं।
  • 2013 और 2016 में, वह ICC वर्ल्ड वनडे XI के मेंबर थे।
  • रवीन्द्र जडेजा को 2013 क्रिकबज टेस्ट इलेवन ऑफ द ईयर में शामिल किया गया था।
  • मार्च 2017 में रविन्द्र जडेजा दुनिया के टेस्ट गेंदबाजों में टॉप पर पहुंच गए।
  • 2018 में आईसीसी के टॉप 10 टेस्ट ऑलराउंडर्स में रविन्द्र जडेजा को दूसरा स्थान मिला था ।

रविन्द्र जडेजा विवाद (Ravindra Jadeja Controversies)

  • रविन्द्र जडेजा की शादी में गोलियां चलीं थी। हालांकि पूरी तरह से उनकी गलती नहीं थी, लेकिन जडेजा को अफेक्टेड करने वाले पहले विवादों में से एक उनकी शादी के रिसेप्शन में उनसे केवल कुछ फीट की दूरी पर बधाई देने वालों पर गोलियां चलाना था। इस पूरे मामले पर काफी हंगामा हुआ और पुलिस बुलानी पड़ी।
  • 2013 में विराट कोहली के रैना के बाद टीम के कप्तान बनने के बाद यह घटना घटी। जडेजा ने रैना से पूछा कि क्या कप्तानी गंवाने के बाद उन्होंने फील्डिंड में रुचि खो दी है, क्योंकि रैना ने उनकी गेंदबाजी पर कुछ कैच छोड़े थे, जिससे उनके बीच तू तू मैं हुई।
  • यह 2014 में ट्रेंट ब्रिज में इंग्लैंड और भारत के बीच टेस्ट मैच के दूसरे दिन हुआ था। जेम्स एंडरसन और जडेजा के बीच तीखी बहस हो गई। जिसमें एंडरसन ने भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी के लिए कुछ गलत शब्दों का इस्तेमाल किया। विवाद जारी रहने पर एंडरसन ने चेंजिंग रूम की ओर जाने वाले गलियारे में भी जडेजा को धक्का दे दिया। भारत ने जडेजा पर जुर्माना लगाने के आईसीसी के फैसले का विरोध किया ।
  • जब रविन्द्र जडेजा पर पूरी तरह से बैन लगा दिया गया था। यह 2010 में हुआ टूर्नामेंट के पहले दो सेशंस के लिए टीम राजस्थान का सदस्य होने के बावजूद जडेजा ने किसी और आईपीएल फ्रेंचाइजी के साथ बेहतर सौदे पर बातचीत करने का प्रयास किया। फिर उन्हें खिलाड़ी नियमों का  उल्लंघन करने के लिए एक सीज़न के लिए निकाल दिया गया।
See also  अभिनेता रणबीर कपूर का जीवन परिचय | Ranbir Kapoor Biography in Hindi

रविन्द्र जडेजा का परिवार (Ravindra Jadeja Family)

image 8
Source: Google

रवीन्द्र जडेजा का परिवार रवीन्द्र जडेजा के पिता अनिरुद्ध और माता लता हैं। रवीन्द्र जडेजा की एक बहन नैना  जडेजा और पद्मिनी हैं। 17 अप्रैल 2016 को जडेजा और रीवा सोलंकी की शादी हुई। उनकी एक बेटी निध्याना है, जिसका जन्म जून 2017 में हुआ था।

रविन्द्र जडेजा की नेटवर्थ (Ravindra Jadeja Net Worth)

माना जाता है कि रविन्द्र जडेजा की कुल प्रॉपर्टी 13 मिलियन डॉलर हैं जो इंडियन रूपीस में लगभग 97 बिलियन रुपये यानी, लगभग सत्तानवे करोड़ रुपये है| इसके अलावा रविन्द्र जडेजा की ब्रांड वैल्यू बहुत ज्यादा है जिससे, वह इंडियन प्रीमियर लीग और इंटरनेशनल और नेशनल क्रिकेट मैचों (आईपीएल) से अच्छी खासी रकम कमाते हैं। 

रविन्द्र जडेजा के बारे में इंटरेस्टिंग फैक्ट्स (Ravindra Jadeja Interesting Facts)

  • दो बार अंडर-19 वर्ल्ड कप में भाग लेने वाले बहुत कम भारतीय खिलाड़ियों में से एक ऑलराउंडर है। जिसमे उन्होंने 2006 और 2008 के वर्ल्ड कप में भाग लिया।
  • शेन वार्न ने जडेजा को ‘रॉक-स्टार’ निकनेम दिया था, लेकिन सोशल मीडिया पर उन्हें आमतौर पर ‘सर’ के नाम से जाना जाता है।
  • इस ऑलराउंडर ने किसी भी हाथ के गेंदबाज के कम्पेयर में सबसे तेजी से 200 टेस्ट विकेट लिए हैं।
  • अप्रैल 2019 में, रविन्द्र जडेजा की पत्नी रीवा सोलंकी भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गईं और उसी महीने, उनके पिता और बहन भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस में शामिल हो गए।
  • गुजरात में जन्मे जडेजा के पास गंगा और केसर नाम के दो घोड़े हैं।
  • राजकोट में जड्डू फूड फील्ड नाम का इनका खुद का रेस्टोरेंट भी हैं।
  • रविन्द्र जडेजा 12 नंबर को अपने लिए लकी मानते हैं। वह अपनी जर्सी पर 12 नंबर पहनते हैं और उनका रेस्टोरेंट 12 दिसंबर 2012 को खुला था। उनका जन्म भी दिसंबर में हुआ था और उन्हें दिसंबर 2012 में नेशनल टेस्ट टीम के लिए चुना गया था।

रविन्द्र जडेजा के सोशल मीडिया अकाउंट (Ravindra Jadeja Social Media Account)

FacebookClick Here
InstagramClick Here
TwitterClick Here

Ravindra Jadeja Biography in Hindi – FAQ’s

  1. कौन हैं रविन्द्र जड़ेजा?

    रविन्द्र जडेजा भारत के इंटरनेशनल क्रिकेटर हैं।

  2. रविन्द्र जडेजा का जन्मदिन कब है?

    6 दिसम्बर 1988

  3. क्या रविन्द्र जडेजा शादीशुदा हैं?

    हां

  4. रविन्द्र जडेजा की उम्र क्या है?

    34 वर्ष



निष्कर्ष

दोस्तों रविंद्र जडेजा के ऊपर लिखी गई यह बायोग्राफी आपको पसंद आई होगी। साथ ही Ravindra Jadeja Biography in Hindi में आप को कुछ ऐसी बातें जानने को मिली होगी, जो शायद आपको पहले पता ना हो। आर्टिकल पसंद आने पर पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर कीजिए।

अगर आपका इस आर्टिकल से सम्बंधित कोई सुझाव या सवाल है तो हमें अवश्य कमेंट करे| हम आपके कमेंट का हरसंभव जवाब देने की कोशिश करेंगे|

Leave a Comment