कहानी लिखने के नियम क्या है | रोचक कहानी लेखन के नए तरीके 2024

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

कहानी लिखने के नियम क्या है: हम में से काफी लोग को एक दूसरे को कहानी सुनाने का काफी शौक होता है। लेकिन कहानी सुनना और कहानी लिखने में काफी फर्क होता है। कहानी सुनाते समय आप आई कनेक्शन के द्वारा भी काफी बाते कर लेते है लेकिन कहानी लिखने में आपको अलग तरह के तकनीक का इस्तेमाल करना चाहते है।

अगर आपके पास भी एक अच्छी कहानी है जिसे आप लोगो के साथ एक किताब के रूप में प्रस्तुत करना चाहते है तो ऐसी स्थिति में आपको सीखना चाहिए कि आप एक कहानी को अच्छा कैसा बना सकते है?

अगर आप भी जानना चाहते है कि कहानी लिखने के नियम क्या है? तो आपको इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ना चाहिए। तो चलिए अब बिना किसी देरी के शुरू करते है।

पोस्ट मुख्य हैडलाइन👉 दिखाये

कहानी लिखते समय किन बातों का ध्यान देना चाहिए

आप अगर कोई भी कहानी लिखना चाहते है तो आपको कई बातो को ध्यान में रखते हुए ही कहानी को लिखना चाहिए। इस तरह से आपकी कहानी काफी अच्छी बन सकती है। 

कहानी लिखने के नियम क्या है

अगर आप भी जानना चाहते है कि आपको कहानी लिखते समय किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए। तो उसको जानने के लिए आपको नीचे कुछ पॉइंट्स दिए गए है आपको उसे जरूर पढ़ना चाहिए।

  • आपको कहानी की शुरुवात इंटरेस्टिंग बनाने का प्रयास करना होगा।
  • आपके कहानी लिखने के पीछे जो उद्देश्य है वो रिफ्लेक्ट होना चाहिए। साथ ही में कोशिश करनी चाहिए कि कहानी में आपको शिक्षा प्रदान करना चाहिए।
  • कहानी लिखते समय आपको अपनी भाषा और व्याकरण का काफी ध्यान रखना होगा।
  • आपको अपनी कहानी को छोटे छोटे पैराग्राफ में बांटना चाहिए।
  • आपको अपनी कहानी को हमेशा भूतकाल में ही लिखना चाहिए। ऐसा इसलिए है क्योंकि आप जो भी कहानी लिखते है वो बिता हुआ कल ही होता है।

कहानी लिखने का सही फॉर्मेट क्या है

आप जिस तरह से पत्र लिखने के लिए एक विशेष प्रकार के फॉर्मेट का इस्तेमाल करते है। इसी तरह से कहानी लिखने का भी एक सही फॉर्मेट होता है। अगर आप भी कहानी लिखने के सही फॉर्मेट के बारे में जानना चाहते है तो आपको नीचे दिए गए सेक्शन को पढ़ना चाहिए।

1) कहानी की शीर्षक

आपको कोशिश करनी चाहिए कि आप किसी भी कहानी के शीर्षक को थोड़ा कैची और इंटरेस्टिंग बनाए।

2) कहानी की शुरुआत 

कहानी के शीर्षक को देने के बाद आपको अपनी कहानी की शुरुवात काफी इंटरेस्टिंग और रोमांचक मोड से करनी चाहिए।

3) चरित्र परिचय

उसके बाद आपको अपनी कहानी में आने वाले सभी चरित्र का परिचय देना होगा। आपको कोशिश करनी चाहिए कि आप कहानी में सभी चरित्र को एक सामान ही भूमिका देने का प्रयास करें।

4) मुख्य भाग (प्लॉट)

जब आप कहानी के सभी चरित्र का परिचय दे देते है। उसके बाद ही आपको कहानी के प्रमुख भाग को लिखना शुरू करना चाहिए। यह कहानी को एक माहौल प्रदान करता है। 

आपको साथ में यह भी कोशिश करनी चाहिए कि आप कहानी में कम से कम कठिन शब्दो का प्रयोग करना चाहिए। अगर आप आसान भाषा का प्रयोग करते है तो आपकी कहानी पढ़ने वाले पाठको को कहानी समझने में आसानी होती है।

5) निष्कर्ष

कहानी के अंत में आपको निष्कर्ष देना चाहिए। साथ ही में आपको कोशिश करनी चाहिए कि आपकी कहानी में कोई ज्ञान या शिक्षा छुपी हुई हो। इस तरह से पाठक जो आपकी कहानी को पढ़ते है इनपर आपका काफी अच्छा असर पड़ता है।

कहानी लिखने के नियम क्या है | रोचक कहानी लेखन के नए तरीके

ऐसे देखा जाए तो कहानी लिखने के काफी सारे नियम होते है। हर लेखक एक दूसरे से अलग हो सकता है। हर किसी के पास क्रिएटिव होने का मौका होता हैं। इसके बावजूद भी कुछ बेसिक चीजे होती है जिसको कहानी लिखते समय जरूर इस्तेमाल या ध्यान में रखना चाहिए। 

अगर आप भी कहानी लिखने के नियम के बारे में जानना चाहते है तो आपको नीचे दिए गए बिंदुओं पर खास ध्यान देना चाहिए।

1) उचित शीर्षक का चुनाव करना चाहिए

आपकी कहानी को लोगो के द्वारा उनके कैरेक्टर से कम और कहानी के शीर्षक से अधिक याद किया जाता है। जिस तरह से मूवी का नाम किसी भी मूवी के लिए जरूरी होता है। उसी प्रकार किसी भी कहानी के लिए उसका शीर्षक जरूरी होता है।

आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि आपकी कहानी का शीर्षक आपके कहानी से मिलता जुलता हो। आपको अपनी कहानी के शीर्षक में अपनी कहानी का एक छोटा सा रहस्य बताने का प्रयास करना चाहिए। जिससे पाठको के मन में कहानी को पढ़ने के व्याकुलता बढ़ जाए।

2) कहानी का आरंभ आकर्षक होना चाहिए

जब आप कहानी लिखना शुरू करते है तो आपको कोशिश करनी चाहिए कि आपकी कहानी रोमांचक हो। जब आपकी कहानी की शुरुवात काफी रोमांचक होती है तो ऐसी स्थिति में पाठको के लिए कहानी के साथ कनेक्टेड फील करना काफी आसान हो जाता है।

3) उद्देश्य स्पष्ट होनी चाहिए

आप जब अपनी कहानी को लिखना शुरू करते है तो आपको कोशिश करनी चाहिए कि आप शुरुवात से ही अपनी कहानी का उद्देश्य अपने पाठको के सामने रख देना चाहिए। जिससे को व्यक्ति आपके उद्देश्य से मेल खाता हो वो आपकी कहानी से और अधिक कनेक्टेड फील करे। वही दूसरे व्यक्ति आसानी से अन्य लोगो को perspective को भी समझ पाते है।

4) भाषा सहज एवं सरल होनी चाहिए

आपको कहानी लिखते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि आप अपनी कहानी में सहज और सरल भाषा का ही प्रयोग करें। जिससे अधिकांश लोग आपकी कहानी को समझ पाने में सफल हो सके। जब आप कठिन शब्दो का प्रयोग करते है तो ऐसी स्थिति मे आपके अधिकांश पाठको के लिए कहानी को समझ पाना काफी हद तक कठिन हो जाता है। 

जिसके बाद आप आपकी कितनी भी अच्छी क्यों न हो, काफी कम लोग ही आपकी कहानी को समझ पाने में सफल हो जाते है।

5) व्याकरण का ध्यान

आप जब भी कहानी लिखे तो आपको उस भाषा के व्याकरण का ध्यान का ध्यान अवश्य रखना चाहिए। जब आप ऐसा करते है तो आपके लिए कहानी में वाक्य को डिजाइन करना आसान हो जाता है। वही आपको प्रयास करना चाहिए कि आप अपनी कहानी को भूतकाल में ही लिखना चाहिए।

6) कहानी क्रमबद्ध होनी चाहिए

काफी सारे लेखक और कहानीकार ऐसे होते है तो जो कहानी को एक समय में दो समय में चला रहे होते है। अगर आपने हाल ही में कहानी लिखने की प्रक्रिया को शुरू किया है तो आपके लिए इस तरह का प्रयोग आपकी कहानी को खराब कर सकता है। इसी कारण से आपको प्रयास करना चाहिए की आपकी कहानी एक क्रमबद्ध तरीके से लिखना चाहिए।

7) कहानी के वाक्य छोटे होने चाहिए

आपको कहानी लिखते समय इस बात का भी ध्यान देना चाहिए कि आप अपनी कहानी के वाक्य और पैराग्राफ को छोटा ही रखे। उससे लोगो को आपकी कहानी लंबी नही लगती है। जिससे आप एक लंबी कहानी को भी लोगो के सामने काफी आसानी से रख सकते है।

8) सभी किरदारों का समान योगदान

आपको कहानी लिखते समय इस बात का भी ध्यान देना चाहिए कि आप अपनी कहानी में सभी चरित्र को सामान भूमिका दे। जब आप ऐसा करते है तो लोग कहानी में हर चरित्र को समझ पाते है और उनके कहानी में चल रहे उतार चढ़ाव को समझ पाते है।

9) कहानी लिखने के लिए एकांत स्थान का चयन करें

आप जब भी कहानी को लिखने का प्रयास करते है तो आपको कोशिश यह करनी चाहिए कि आपको अपनी कहानी को एक शांत जगह पर बैठकर लिखना चाहिए। जब आप किसी शांत जगह पर बैठकर कहानी लिखने का प्रयास करते है तो आप कहानी में खो जाते है। ऐसी स्थिति में आपको कहानी काफी अच्छी होती है। 

काफी बार जब आप ऐसे ही एकांत स्थान में  कहानी लिखने का प्रयास करते है तो आप एक masterpiece भी क्रिएट कर सकते है। जिससे आप अपनी कहानी को काफी अच्छा बना सकते है।

10) कहानी शिक्षाप्रद होनी चाहिए

आपको कोशिश करनी चाहिए कि आप जो भी कहानी लिखने उसके अंत में आप एक सोशल मैसेज या कोई ज्ञान पाठको को प्रदान कर पाने में सफल हो। जब आप ऐसा करते है तो पाठको के मन में आपके प्रति काफी सम्मान बढ़ता है। 

जिसके बाद वो आपके द्वारा लिखे हुए अन्य कहानी को पढ़ने का प्रयास करते है। अगर आपको कहानी को काफी लोगो तक पहुंचना है तो आपको अपनी कहानी को शिक्षाप्रद बनाने का प्रयास करना चाहिए।

11) अधिक से अधिक कहानियों को पढ़ना चाहिए

हम आपको एक सुझाव देंगे कि अगर आप एक कहानी लिखने वाले बनाना चाहते है तो आपको काफी सारे लेखक के द्वारा लिखी हुई कहानी को पढ़ना भी चाहिए।  

जब आप ऐसा करते है तो अक्सर आप समझ पाते है कि उनके लिखने का तरीका क्या हैं? अगर आपको भी उनके कहानी लिखने के तरीके में कुछ पसंद आता है तो आप उसे अपनी कहानी लिखने के क्रिया में शामिल कर सकते है। इसी तरह से आप दूसरे के अनुभव और अपने अनुभव के द्वारा ही अच्छे कहानीकार बन सकते है।

12) समय का सदुपयोग करें

आप अगर कहानी शौक के बजाय कमाई के लिए लिखते है तो आपको अपने समय का सदुपयोग करना चाहिए। आप अगर कमाई के लिए कहानी लिखते है तो आपको कम से कम समय में कहानी को पूरा करने का प्रयास करना होता है।

इसी कारण से आपके लिए समय का सदुपयोग करना अहम हो जाता है। आपको कहानी का शीर्षक क्या होगा? , कहानी कितनी बड़ी होगी? इन सब विषय पर कम से कम समय में विचार करके अपने काम को प्रारंभ करना चाहिए।

कहानी लिखने के नियम क्या है से जुड़े सवाल

  1. कहानी के कितने अंग होते हैं?

    किसी भी कहानी के मुख्य रूप से चार अंग होते है जैसे, आरंभ, कहानी के चरित्रों का परिचय, मुख्य भाग और निष्कर्ष। 

  2. कहानी कितने प्रकार के होते है?

    ऐसे देखा जाए तो कहानी कई प्रकार के होते है। जिसमे से कुछ होते है चरित्र प्रधान कहानी, घटना प्रधान कहानी, स्थल प्रधान कहानी, भाषा प्रधान कहानी।

  3. कहानी लिखने की शुरुवात कैसे करे?

    आप अगर कोई भी कहानी लिखना चाहते है तो आपको कोशिश करनी चाहिए कि आप कहानी के परिचय को रोमांचक और इंटरेस्टिंग बनाए। इसी तरह से आपको किसी भी कहानी की शुरुवात करनी चाहिए।



निष्कर्ष

आज इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको कहानी लिखने के नियम क्या है? के बारे में बताने का प्रयास किया है। उम्मीद है आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा। अगर ऐसा है तो आप इस आर्टिकल को अपने दोस्तो और सहपाठी के साथ भी शेयर कर सकते है।

वही अगर आपके मन में इस कहानी लिखने की प्रक्रिया से संबंधित कोई सवाल आता है तो आप हमसे नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में संपर्क कर सकते है। धन्यवाद! 

Leave a Comment