Paras Defence Share Price Target 2023, 2024, 2025, 2030 सम्पूर्ण जानकारी

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

आज के इस आर्टिकल में हम Paras Defence Share Price Target के बारे में जानेंगे और साथ में हम जानेंगे कि इस कंपनी का आने वाला भविष्य कैसा हो सकता है और इस कंपनी में कितना रिस्क है? अगर आपको इन सब के बारे में जानकारी चाहिए तो आपको इस आर्टिकल को ध्यान से पढना होगा|

तो चलिए ज्यादा देर ना करते हुए शुरू करते है इस आर्टिकल को और जानते है Paras Defence Share Price Target 2023, 2024, 2025, 2030 के बारे में सम्पूर्ण जानकारी –

पारस डिफेन्स लिमिटेड के बारे में पूरी जानकारी (Paras Defence Limited Review in Hindi)

पारस डिफेंस एंड स्पेस टेक्नोलॉजीज लिमिटेड एक भारतीय कंपनी है जो डिफेन्स और अंतरिक्ष अनुप्रयोगों के लिए उत्पादों, प्रणालियों और समाधानों का डिजाइन, विकास, निर्माण, परीक्षण और कमीशन करती है। कंपनी की स्थापना 2009 में हुई थी और इसका मुख्यालय मुंबई, भारत में है।

पारस डिफेंस के पांच बिजनेस वर्टिकल हैं –

Paras Defence Share Price Target
  1. डिफेन्स और अंतरिक्ष ऑप्टिक्स: इस वर्टिकल में डिफेन्स और अंतरिक्ष अनुप्रयोगों के लिए ऑप्टिकल सिस्टम का डिज़ाइन, विकास और निर्माण शामिल है। कंपनी के उत्पादों में ऑप्टिकल डोम, जाइरो ब्लॉक, डिफ्रेक्टिव ग्रेटिंग, मल्टी-फोल्ड लेंस, जीरोडुर मिरर, मेटल मिरर, अल्ट्रा-प्रिसिजन मैन्युफैक्चरिंग और लेंस बैरल शामिल हैं।
  2. डिफेन्स इलेक्ट्रॉनिक्स: इस कार्यक्षेत्र में डिफेन्स और अंतरिक्ष अनुप्रयोगों के लिए इलेक्ट्रॉनिक प्रणालियों का डिज़ाइन, विकास और निर्माण शामिल है। कंपनी के उत्पादों में मिल ग्रेड कंट्रोल सिस्टम, मिल ग्रेड कंप्यूटिंग कंसोल, मिल क्वालिफाइड रग्ड डिस्प्ले, मिल ग्रेड कंप्यूटर/सर्वर, सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट, डेटा/वीडियो/इमेज प्रोसेसिंग और एकॉस्टिक और मैग्नेटिक सेंसिंग उत्पाद शामिल हैं।
  3. भारी इंजीनियरिंग: इस कार्यक्षेत्र में डिफेन्स और अंतरिक्ष अनुप्रयोगों के लिए भारी इंजीनियरिंग उत्पादों का डिज़ाइन, विकास और निर्माण शामिल है। कंपनी के उत्पादों में फ्लो फॉर्मेड ट्यूब्स, एक्टिव ऐरे रडार कूलिंग असेंबली, टाइटेनियम मैन्युफैक्चरिंग, स्पेशल मेटल मैन्युफैक्चरिंग, हैवी स्ट्रक्चर और स्पेशल पर्पज मशीन शामिल हैं।
  4. इलेक्ट्रोमैग्नेटिक पल्स प्रोटेक्शन सॉल्यूशंस: इस वर्टिकल में डिफेन्स और अंतरिक्ष अनुप्रयोगों के लिए इलेक्ट्रोमैग्नेटिक पल्स प्रोटेक्शन सॉल्यूशंस का डिजाइन, विकास और निर्माण शामिल है। कंपनी के उत्पादों में इलेक्ट्रोमैग्नेटिक पल्स शील्डिंग एनक्लोजर, इलेक्ट्रोमैग्नेटिक पल्स फिल्टर और इलेक्ट्रोमैग्नेटिक पल्स कठोर घटक शामिल हैं।
  5. आला प्रौद्योगिकियां: इस वर्टिकल में डिफेन्स और अंतरिक्ष अनुप्रयोगों के लिए आला प्रौद्योगिकियों का डिजाइन, विकास और निर्माण शामिल है। कंपनी के उत्पादों में उच्च-प्रदर्शन कंप्यूटिंग सिस्टम, सॉफ्टवेयर-परिभाषित रेडियो और मानव रहित हवाई वाहन शामिल हैं।

पारस डिफेंस की मुंबई, भारत में अत्याधुनिक निर्माण सुविधा है। कंपनी के पास 600 से अधिक कर्मचारियों का कार्यबल है और डिजाइन से लेकर छोटे से लेकर बड़े सिस्टम को चालू करने तक के टर्नकी समाधान की पेशकश करने में सक्षम है।

पारस डिफेंस भारत में टियर 2 की रक्षा इंजीनियरिंग कंपनी है। कंपनी को भारत सरकार द्वारा कई अनुबंधों से सम्मानित किया गया है और देश के अधिकांश प्रतिष्ठित रक्षा और अंतरिक्ष कार्यक्रमों में इसका महत्वपूर्ण योगदान है।

पारस डिफेंस 100% मेक इन इंडिया कंपनी है। कंपनी भारत में रक्षा और अंतरिक्ष उत्पादों के विकास और निर्माण के लिए प्रतिबद्ध है।

पारस डिफेंस उज्ज्वल भविष्य वाली एक बढ़ती हुई कंपनी है। कंपनी भारत और विदेशों में रक्षा और अंतरिक्ष उत्पादों की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए अच्छी स्थिति में है।

पारस डिफेन्स के वितीय आंकड़े निम्न प्रकार से है –

मुख्य बिंदुविवरण
मार्केट कैप₹ 3,075 करोड़
04 जनवरी 2024 के अनुसार शेयर प्राइस₹ 788
52 वीक हाई लेवल प्राइस₹ 848
52 वीक लो लेवल प्राइस₹ 446
स्टॉक P/E रेश्यो62.7
डिविडेंड यील्ड0.00 %
ROCE (Return on Capital Employed)12.9 %
ROE (Return on Equity)9.09 %

मार्च 2023 के अनुसार कंपनी का शेयरहोल्डिंग पैटर्न निम्न प्रकार से है –

शेयरहोल्डर्स पैटर्नटोटल शेयरहोल्डिंग्स (%)
प्रमोटर्स58.94
विदेशी संस्थागत निवेशक (FII’s)0.53
घरेलु संस्थागत निवेशक (FII’s)2.57
पब्लिक37.95

अब हम Paras Defence Share Price Target के बारे में विस्तार से जानते है –

2023 में पारस डिफेन्स का शेयर प्राइस टारगेट (Paras Defence Share Price Target 2023 in Hindi)

2023 में पारस डिफेन्स के लिए शेयर की कीमत का लक्ष्य अटकलबाजी का विषय है, क्योंकि ऐसे कई कारक हैं जो स्टॉक के प्रदर्शन को प्रभावित कर सकते हैं। हालांकि कंपनी के हालिया वित्तीय प्रदर्शन और विकास की संभावनाओं के आधार पर कुछ विश्लेषकों ने शेयर के लिए 590-645 रुपए का लक्ष्य मूल्य निर्धारित किया है।

यहां कुछ कारक हैं जो 2023 में पारस डिफेन्स के शेयर की कीमत को प्रभावित कर सकते हैं –

  • भारत सरकार से आने वाले वर्षों में डिफेन्स पर खर्च बढ़ाने की उम्मीद है, जिससे कंपनी के उत्पादों और सेवाओं की मांग बढ़ सकती है।
  • पारस डिफेंस अपने प्रोडक्ट पोर्टफोलियो का विस्तार कर रहा है और नए बाजारों में प्रवेश कर रहा है, जिससे उच्च राजस्व वृद्धि हो सकती है।
  • कंपनी के पास एक मजबूत वित्तीय स्थिति है और किसी भी आर्थिक मंदी का सामना करने के लिए अच्छी स्थिति में है।
  • कंपनी द्वारा हाल ही में एक इजरायली डिफेन्स टेक्नोलॉजी फर्म के अधिग्रहण से उसे अपने प्रोडक्ट पोर्टफोलियो का विस्तार करने और नए बाजारों में प्रवेश करने में मदद मिल सकती है।
  • उम्मीद है कि भारत सरकार आने वाले वर्षों में डिफेन्स पर अपना खर्च बढ़ाएगी, जिससे पारस डिफेंस के उत्पादों और सेवाओं की मांग बढ़ सकती है।
  • वैश्विक बाजार में डिफेन्स प्रोडक्ट्स की बढ़ती मांग से लाभान्वित होने के लिए कंपनी अच्छी स्थिति में है।

इन सब कारणों को देखते हुए अगर हम Paras Defence Share Price Target 2023 की बात करें तो इस कंपनी का पहला शेयर प्राइस टारगेट 590 और दूसरा शेयर प्राइस टारगेट 745 रूपये हो सकता है|

2024 में पारस डिफेन्स का शेयर प्राइस टारगेट (Paras Defence Share Price Target 2024 in Hindi)

2024 में Paras Defence Share Price Target ₹790-830 तक पहुंचने की उम्मीद है। यह डिफेन्स क्षेत्र में कंपनी की मजबूत विकास संभावनाओं के साथ-साथ भारतीय अर्थव्यवस्था के समग्र सकारात्मक दृष्टिकोण पर आधारित है।

पारस डिफेन्स भारत सरकार को डिफेन्स उत्पादों और सेवाओं का एक प्रमुख आपूर्तिकर्ता है। कंपनी का विकास का एक मजबूत ट्रैक रिकॉर्ड है, और भारत में रक्षा उत्पादों की बढ़ती मांग से लाभ उठाने के लिए अच्छी स्थिति में है। भारत सरकार वर्तमान में रक्षा पर भारी खर्च कर रही है, और यह आने वाले वर्षों में जारी रहने की उम्मीद है।

पारस डिफेन्स घरेलू बाजार के अलावा निर्यात बाजारों को भी लक्षित कर रहा है। कंपनी ने पहले ही निर्यात बाजार में कुछ पैठ बना ली है, और इस क्षेत्र में अपनी उपस्थिति का विस्तार करना चाहती है। आने वाले वर्षों में वैश्विक रक्षा बाजार के उल्लेखनीय रूप से बढ़ने की उम्मीद है, और पारस इस वृद्धि को भुनाने के लिए अच्छी स्थिति में है।
ऐसे में अगर हम Paras Defence Share Price Target 2024 की बात करें तो इसका पहला शेयर प्राइस टारगेट 790 रूपये और दूसरा शेयर प्राइस टारगेट 830 रूपये पर जा सकता है|

2025 में पारस डिफेन्स का शेयर प्राइस टारगेट (Paras Defence Share Price Target 2025 in Hindi)

2025 में Paras Defence Share Price Target 895 रूपये से 980 रुपये तक पहुंचने की उम्मीद है। यह कंपनी के मजबूत वित्तीय प्रदर्शन और आने वाले वर्षों में अपने कारोबार का विस्तार करने की योजना पर आधारित है।

यहां कुछ ऐसे कारण दिए गए हैं जो अगले कुछ वर्षों में पारस डिफेन्स के विकास में योगदान दे सकते हैं –

  1. भारतीय डिफेन्स क्षेत्र का विकास: भारत सरकार डिफेन्स पर अपना खर्च बढ़ा रही है, और इससे रक्षा क्षेत्र में विकास की उम्मीद है। पारस डिफेंस भारतीय डिफेन्स क्षेत्र में एक अग्रणी खिलाड़ी है, और यह इस वृद्धि से लाभान्वित होने के लिए अच्छी स्थिति में है।
  2. नए बाजारों में विस्तार: पारस डिफेंस मध्य पूर्व और अफ्रीका जैसे नए बाजारों में विस्तार कर रहा है। इस विस्तार से कंपनी के रेवेन्यु और मुनाफे को बढ़ावा मिलने की उम्मीद है।
  3. अधिग्रहण: पारस डिफेंस अपने उत्पाद पोर्टफोलियो का विस्तार करने और नए बाजारों तक पहुंचने के लिए अधिग्रहण पर विचार कर रहा है। इससे कंपनी के शेयर की कीमत भी बढ़ सकती है।
  4. कंपनी की विस्तार योजना: पारस डिफेंस अपनी उत्पादन क्षमता का विस्तार करने और नए बाजारों में प्रवेश करने की योजना बना रही है। इससे उच्च बिक्री और मुनाफा हो सकता है, जिससे शेयर की कीमत बढ़ जाएगी।

ऐसे में अगर हम Paras Defence Share Price Target 2025 के बारे में बात करें तो इस कंपनी का 2025 में पहला शेयर प्राइस टारगेट 895 और दूसरा शेयर प्राइस टारगेट 980 रूपये हो सकता है|

2026 में पारस डिफेन्स का शेयर प्राइस टारगेट (Paras Defence Share Price Target 2026 in Hindi)

बहुत से मार्केट एक्सपर्ट और ब्रोकरेज फर्म के अनुसार, 2026 में Paras Defence Share Price Target ₹1020-1110 तक पहुंचने की उम्मीद है। कम्पनी के मजबूत वित्तीय प्रदर्शन और नए बाजारों में इसके विस्तार से आने वाले वर्षों में इसके विकास में योगदान की उम्मीद है।

परस डिफेन्स एक प्रमुख भारतीय डिफेन्स कांट्रेक्टर है, और इसके शेयर की कीमत हाल के वर्षों में ऊपर की ओर रही है। कंपनी को भारत में रक्षा उत्पादों की बढ़ती मांग के साथ-साथ अपनी खुद की मजबूत वृद्धि का लाभ मिला है। 2022 में, पारस डिफेन्स ने रेवेन्यु में 20% की वृद्धि दर्ज की, और इसके लाभ में 30% की वृद्धि हुई है।

कंपनी आने वाले वर्षों में और विकास के लिए अच्छी स्थिति में है। इसकी ऑर्डर बुक काफी मजबूत है और यह अपने उत्पाद पोर्टफोलियो का विस्तार कर रही है। पारस डिफेन्स ड्रोन और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस जैसी नई तकनीकों में भी निवेश कर रहा है।
ऐसे में अगर हम Paras Defence Share Price Target 2026 की बात करें तो इस कंपनी का पहला शेयर प्राइस टारगेट 1020 रूपये और दूसरा शेयर प्राइस टारगेट 1110 रूपये हो सकता है|

2030 में पारस डिफेन्स का शेयर प्राइस टारगेट (Paras Defence Share Price Target 2030 in Hindi)

2030 में Paras Defence Share Price Target ₹1680-1725 तक पहुंचने की उम्मीद है। यह इस धारणा पर आधारित है कि पारस डिफेन्स अपने व्यवसाय को बढ़ाना जारी रखेगा और अपने वित्तीय प्रदर्शन में सुधार करेगा।

भारत में डिफेन्स क्षेत्र अगले कुछ वर्षों में 7% से 8% की सीएजीआर से बढ़ने की उम्मीद है। यह विकास भारत सरकार और निजी क्षेत्र से डिफेन्स उत्पादों की बढ़ती मांग के साथ-साथ रक्षा उत्पादन के स्वदेशीकरण पर बढ़ते फोकस सहित कई कारकों से प्रेरित हो रहा है।

पारस डिफेंस इस ग्रोथ का फायदा उठाने की अच्छी स्थिति में है। कंपनी भारत सरकार और निजी क्षेत्र के लिए डिफेन्स उत्पादों की एक प्रमुख आपूर्तिकर्ता है। इसका जोर स्वदेशीकरण पर भी है, जिससे इसकी लागत कम करने और इसके मार्जिन में सुधार करने में मदद मिलने की उम्मीद है।

यहां कुछ कारक दिए गए हैं जो अगले कुछ वर्षों में पारस डिफेंस के विकास में योगदान कर सकते हैं –

  • भारत सरकार रक्षा पर अपना खर्च बढ़ा रही है, जिससे पारस डिफेंस जैसी रक्षा कंपनियों के लिए नए अवसर पैदा होंगे।
  • पारस डिफेंस अपने उत्पाद पोर्टफोलियो का विस्तार कर रहा है और नए बाजारों में प्रवेश कर रहा है, जो इसके विकास को बढ़ावा देने में मदद करेगा।
  • कंपनी अनुसंधान और विकास में भी निवेश कर रही है, जिससे उसे प्रतिस्पर्धा से आगे रहने में मदद मिलेगी।

 ऐसे में अगर हम Paras Defence Share Price Target 2030 की बात करें तो इस कंपनी का पहला शेयर प्राइस टारगेट 1680 और दूसरा शेयर प्राइस टारगेट 1725 रूपये हो सकता है|

Paras Defence Share Price Target 2023, 2024, 2025, 2030 in Table

वर्षपहला शेयर प्राइस टारगेटदूसरा शेयर प्राइस टारगेट
2023590745
2024790830
2025895980
202610201110
203016801725

पारस डिफेन्स शेयर का भविष्य (Future of Paras Defence Share)

ऐसे कई कारण है जिन से यह लगता है कि पारस डिफेन्स का शेयर आपने वाले समय में तगड़ा प्रदर्शन कर सकता है –

पहला, भारत सरकार डिफेन्स पर अपना खर्च बढ़ा रही है, जो पारस डिफेंस जैसे डिफेन्स कांट्रेक्टर के लिए अच्छी खबर है। 2022-23 के बजट में, सरकार ने डिफेन्स के लिए ₹76,000 करोड़ (US$10.2 बिलियन) आवंटित किए, जो पिछले वर्ष की तुलना में 13.7% अधिक है। यह खर्च आने वाले वर्षों में बढ़ने की उम्मीद है, क्योंकि सरकार अपने सशस्त्र बलों का आधुनिकीकरण करना चाहती है।

दूसरा, पारस डिफेंस के पास एक मजबूत उत्पाद पोर्टफोलियो है। कंपनी रक्षा उत्पादों की एक विस्तृत श्रृंखला बनाती है, जिसमें नाइट विजन डिवाइस, थर्मल इमेजिंग सिस्टम और रडार शामिल हैं। इन उत्पादों की भारतीय सेना में काफी मांग है, और रक्षा पर सरकार के बढ़े हुए खर्च का लाभ उठाने के लिए पारस डिफेंस अच्छी स्थिति में है।

तीसरा, पारस डिफेंस की वित्तीय स्थिति मजबूत है। कंपनी के पास ऋण-मुक्त बैलेंस शीट और स्वस्थ नकदी प्रवाह है। यह वित्तीय ताकत पारस डिफेंस को नए उत्पादों में निवेश करने और अपने परिचालन का विस्तार करने की अनुमति देगी।

पारस डिफेन्स शेयर में रिस्क (Risk in Paras Defence Share)

पारस डिफेंस एंड स्पेस टेक्नोलॉजीज लिमिटेड (PARAS) एक डिफेन्स कांट्रेक्टर है जो भारतीय सशस्त्र बलों के लिए प्रोडक्ट्स और सर्विसेज की एक विस्तृत श्रृंखला का निर्माण और आपूर्ति करता है। हाल के महीनों में कंपनी के स्टॉक में गिरावट आई है, जो पिछले एक साल में 50% से अधिक बढ़ गया है। हालांकि, पारस में निवेश से जुड़े कुछ जोखिम हैं, जिनमें शामिल हैं –

  1. सरकारी ठेकों पर निर्भरता: पारस का रेवेन्यु सरकारी ठेकों पर बहुत अधिक निर्भर है। अगर सरकार डिफेंस पर अपना खर्च कम करती है तो पारस के रेवेन्यू में काफी गिरावट आ सकती है।
  2. कम्पीटीशन: डिफेन्स सेक्टर में तेजी से कम्पीटीशन बढ़ता जा रहा है, जिसमें हर समय नए प्रवेशकर्ता बाजार में प्रवेश कर रहे हैं। पारस को अपनी बाजार हिस्सेदारी बनाए रखने के लिए अपने उत्पादों और सेवाओं में नयापन और सुधार जारी रखना होगा।
  3. भू-राजनीतिक जोखिम: डिफेन्स सेक्टर भू-राजनीतिक जोखिमों के प्रति संवेदनशील है। यदि इस क्षेत्र में संघर्ष होता है, तो पारस का व्यवसाय बाधित हो सकता है।

कुल मिलाकर, पारस एक मजबूत ट्रैक रिकॉर्ड वाली एक अच्छी तरह से प्रबंधित कंपनी है। हालांकि, स्टॉक में निवेश से जुड़े कुछ जोखिम भी हैं। निवेश का निर्णय लेने से पहले निवेशकों को इन जोखिमों पर सावधानीपूर्वक विचार करना चाहिए।

यहां कुछ अतिरिक्त जोखिम हैं जो पारस के शेयर की कीमत को प्रभावित कर सकते हैं:

  • भारत सरकार अपनी रक्षा खरीद नीतियों में बदलाव कर सकती है, जिसका पारस के कारोबार पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है।
  • पारस का राजस्व भारतीय रुपये में है, लेकिन इसका खर्च अमेरिकी डॉलर में है। अगर अमेरिकी डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपया कमजोर होता है तो पारस का मुनाफा घट सकता है।
  • पारस को वित्तीय समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है यदि वह अपने ऋण का प्रबंधन करने में असमर्थ है या बिक्री में गिरावट का अनुभव करती है।

पारस में निवेश का निर्णय लेने से पहले निवेशकों को सावधानीपूर्वक इन जोखिमों पर विचार करना चाहिए।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

  1. पारस डिफेन्स कंपनी किस सेक्टर में काम करती है?

    पारस डिफेन्स कम्पनी डिफेन्स सेक्टर में काम करती है|

  2. Paras Defence के सीईओ का क्या नाम है?

    Paras Defence के सीईओ मुंजाल शरद शाह है|

  3. Paras Defence पर कर्ज कितना है?

    31 मार्च 2023 के अनुसार Paras Defence पर टोटल डेब्ट ₹750.47 करोड़ से अधिक है|

  4. Paras Defence का भविष्य कैसा है?

    पारस डिफेन्स का भविष्य आप नीचे दिए समीकरण के माध्यम से जान सकते है –
    डिफेन्स का बढ़ता बजट + नए प्रोडक्ट का विकास = पारस डिफेंस का सकारात्मक भविष्य

  5. 2030 में Paras Defence Share Price Target क्या होगा?

    2030 में पारस डिफेन्स का शेयर 1680 रूपये या 1725 रूपये के टारगेट प्राइस को टच कर सकता है|



निष्कर्ष

उम्मीद है कि आपको हमारी यह पोस्ट Paras Defence Share Price Target 2023, 2024, 2025, 2030 अवश्य पसंद आयी होगी| अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों और सोशल मीडिया में अवश्य शेयर करें|

अगर आपको इस पोस्ट सम्बंधित कोई प्रश्न या सुझाव है तो आप हमें कमेंट कर सकते है| हम आपके कमेंट का जवाब देने की हर सम्भव कोशिश करेंगे|

Leave a Comment